एडवांस्ड सर्च

दिल्लीः हथियारों की तस्करी करने वाले गैंग का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो दिल्ली एनसीआर में हथियारों की तस्करी करता था. पुलिस ने इस गिरोह के तीन शातिर तस्करों को गिरफ्तार कर लिया है. इनके पास से पुलिस ने आधा दर्जन पिस्टल और जिंदा कारतूस बरामद किए हैं.

Advertisement
चिराग गोठी [Edited by: परवेज़ सागर]नई दिल्ली, 12 January 2018
दिल्लीः हथियारों की तस्करी करने वाले गैंग का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार पुलिस पकड़े गए सभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो दिल्ली एनसीआर में हथियारों की तस्करी करता था. पुलिस ने इस गिरोह के तीन शातिर तस्करों को गिरफ्तार कर लिया है. इनके पास से पुलिस ने आधा दर्जन पिस्टल और जिंदा कारतूस बरामद किए हैं.

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक गुप्त सूचना के आधार पर तीनों आरोपियों को दिल्ली के पश्चिमपुरी इलाके से गिरफ्तार किया. इनकी पहचान प्रतीक, ललित और वसीम के रूप में हुई है. ये तीनों पिछले 6 से 7 महीनों से दिल्ली एनसीआर में हथियारों की तस्करी कर रहे थे.

क्राइम ब्रांच ने इनके पास से 6 पिस्टल और 60 ज़िंदा कारतूस बरामद किए हैं. क्राइम ब्रांच के मुताबिक इस गिरोह का सरगना प्रतीक है. प्रतीक दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट है. हथियारों के शौक ने उसे हथियारों का तस्कर बना दिया.

क्राइम ब्रांच के डीसीपी जॉय टिर्की ने बताया कि हथियार तस्करी का यह गिरोह एक चैन सिस्टम के तहत काम करता था. गैंग का सरगना प्रतीक हथियारों की डिलीवरी करता था. मेरठ निवासी वसीम की मदद से प्रतीक हथियारों को मेरठ से लाता था और ललित हथियारों के खरीददार से डील करता था.

डीसीपी के मुताबिक यह गिरोह भारी कीमत पर हथियारों का सौदा करता था. अब क्राइम ब्रांच उन लोगों की तलाश कर रही है, जिन लोगों को यह गिरोह हथियार बेचा करता था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay