एडवांस्ड सर्च

दोस्त ले गया नौकरी दिलाने, वापस आई युवक की लाश, दोस्त के खिलाफ मामला दर्ज

सूचना के आधार पर मृतक के परिजन अलीगढ़ अस्पताल पहुंचे, लेकिन उसकी हालत बिगड़ते देख उसे दिल्ली के लिए रेफर कर दिया गया और आखिरकार इलाज के दौरान बुधवार को युवक ने दम तोड़ दिया, जिसके बाद से मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है.

Advertisement
तनसीम हैदरनई दिल्ली, 11 July 2019
दोस्त ले गया नौकरी दिलाने, वापस आई युवक की लाश, दोस्त के खिलाफ मामला दर्ज प्रतीकात्मक तस्वीर

गाजियाबाद के थाना कवि नगर इलाके की मधुबन बापू धाम कालोनी में आज दोपहर अचानक उस वक्त शोक छा गया जब 27 जून को अचानक लापता हुए युवक का शव उसके घर पहुंचा. लोगों को जैसे ही यह सूचना मिली तो लोगों की भीड़ मौके पर जमा हो गई. बताया जा रहा है कि पड़ोसी युवक ही उसे अलीगढ़ काम दिलाने के लिए ले गया था, लेकिन देर शाम तक उनके परिजनों के पास फोन आया कि उनके बेटे का एक्सीडेंट हो गया है और वह सरकारी अस्पताल में एडमिट है.

सूचना के आधार पर मृतक के परिजन अलीगढ़ अस्पताल पहुंचे, लेकिन उसकी हालत बिगड़ते देख उसे दिल्ली के लिए रेफर कर दिया गया और आखिरकार इलाज के दौरान बुधवार को युवक ने दम तोड़ दिया, जिसके बाद से मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. फिलहाल मृतक के परिजनों द्वारा उस युवक के खिलाफ थाना कविनगर में तहरीर दी गई है जो कि पड़ोसी युवक उसे अलीगढ़ काम दिलाने के नाम पर ले गया था.

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए मृतक नितिन के ताऊ के बेटे तुषार ने बताया कि करीब 25 वर्षीय नितिन गाजियाबाद में ही कपड़े के शोरूम पर सेल्समैन था. वह 27 जून को जब शोरूम से अपने घर वापस लौटा तो उसी दौरान उसकी मुलाकात उसके पड़ोसी युवक 26 वर्षीय सार्थक से हुई. सार्थक ने उसे अच्छा काम दिलाने के लिए कहा और उसे अपने साथ अलीगढ़ ले गया.

तुषार ने बताया कि सार्थक जिन लोगों के पास उसे ले गया था वह लोग शराब के अवैध धंधे में लिप्त थे, लेकिन एकाएक नितिन के परिजनों के पास फोन आया कि नितिन का एक्सीडेंट हो गया है. सूचना मिलते ही उसके परिजन अलीगढ़ पहुंचे तो नितिन का इलाज सरकारी अस्पताल में चल रहा था. उसकी हालत बिगड़ते देख उसे दिल्ली के लिए रेफर कर दिया. जिसके बाद नितिन को दिल्ली में भी इलाज पूरी तरह नहीं मिल पाया आखिरकार बुधवार की सुबह नितिन ने दम तोड़ दिया.

तुषार ने बताया कि नितिन के शव को गाजियाबाद लाया गया है और पड़ोस में रहने वाले सार्थक नाम के युवक के खिलाफ थाना कविनगर में शिकायत दर्ज कराई गई है. क्योंकि पीड़ित परिवार का कहना है कि नितिन की उन लोगों के द्वारा पिटाई की गई थी. जिसके बाद वह गंभीर रूप से घायल हो गया था. उधर इस पूरे मामले में गाज़ियाबाद के एसएसपी सुधीर सिंह ने बताया कि इस तरह का मामला सामने आया है. फिलहाल पीड़ित परिवार द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर पड़ोसी युवक को हिरासत में ले लिया गया है और गहनता से इसकी जांच की जा रही है.

नितिन को पड़ोसी युवक काम दिलाने के बहाने लेकर गया था, लेकिन जब शाम को परिवार को सूचना दी तो मृतक घायल हालत में था. मृतक का परिवार इलाज में लापरवाही का आरोप भी लगा रहा है. परिवार मृतक की हत्या किए जाने का आरोप लगा रहा है. अब पुलिस जांच के बाद पूरा घटनाक्रम साफ हो पाएगा और मामले की सच्चाई सामने आ पाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay