एडवांस्ड सर्च

BJP नेता पर लगाया था रेप की कोशिश का आरोप, खेत में मृत मिली पीड़िता

यूपी के बिजनौर जिले में बीजेपी के स्थानीय नेता के खिलाफ रेप की कोशिश की शिकायत करने वाली एक महिला की मंगलवार को संदिग्ध हालात में मौत हो गई. दलित समुदाय की इस महिला ने शिकायत में कहा था कि उसे प्रताड़ित किया जा रहा है. पुलिस की ओर से कुछ ना किए जाने पर महिला ने चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट की कोर्ट में गुहार लगाई थी.

Advertisement
aajtak.in
परवेज़ सागर/ खुशदीप सहगल बिजनौर, 04 October 2017
BJP नेता पर लगाया था रेप की कोशिश का आरोप, खेत में मृत मिली पीड़िता पुलिस मामले की छानबीन कर रही है

यूपी के बिजनौर जिले में बीजेपी के स्थानीय नेता के खिलाफ रेप की कोशिश की शिकायत करने वाली एक महिला की मंगलवार को संदिग्ध हालात में मौत हो गई. दलित समुदाय की इस महिला ने शिकायत में कहा था कि उसे प्रताड़ित किया जा रहा है. पुलिस की ओर से कुछ ना किए जाने पर महिला ने चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट की कोर्ट में गुहार लगाई थी.

कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने महिला की शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया था. कोर्ट में 3 अक्टूबर को ही महिला की याचिका पर सुनवाई होनी थी. लेकिन 3 अक्टूबर को सुबह ही उसका शव गांव से 250 मीटर दूर गन्ने के खेत से मिला. महिला का आरोप था कि उसने साहलीपुर बीजेपी ग्रामीण मंडल अध्यक्ष राम सेवक और विजय प्रधान से गरीबों के लिए आवास योजना के तहत सरकारी जमीन का पट्टा दिलवाने के लिए मदद मांगी थी.

महिला की शिकायत के मुताबिक सेवक और प्रधान उसे 28 जून को विधायक से मिलवाने के नाम पर साथ ले गए. लेकिन रास्ते में लौटते वक्त सेवक और प्रधान ने शराब पीने के बाद उससे रेप करने की कोशिश की. साथ ही जान से मारने की धमकी भी दी. शिकायत में महिला का कहना था कि वो किसी तरह गाड़ी से उतर कर भागने में कामयाब हो गई.

महिला फिर बढापुर थाने में शिकायत दर्ज कराने गई तो उसे आरोपियों के रसूखदार होने की बात कह कर टरका दिया गया. महिला से ये भी कहा गया कि चुपचाप घर बैठने में ही उसकी भलाई है. अगर उसे 30-50 हजार रुपए भी दिलवा दिए जाएंगे. महिला ने फिर कई अधिकारियों का दरवाजा खटखटाने की कोशिश की लेकिन उसकी कहीं सुनवाई नहीं हुई. महिला ने थक हार कर कोर्ट से इनसाफ के लिए गुहार लगाई.

कोर्ट ने बढ़ापुर थाने की पुलिस को रेप की कोशिश और छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए जिस पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया. महिला ने कोर्ट में दोबारा अपील दाखिल कर मांग की थी कि क्योंकि वो दलित है इसलिए एससी एक्ट के तहत भी आरोपियों के खिलाफ धाराएं लगाई जाएं. इसी अपील पर कोर्ट में 3 अक्टूबर को सुनवाई होनी थी.

3 अक्टूबर की सुबह ही महिला का गन्ने के खेत में शव मिला तो हड़कंप मच गया. महिला के ससुर का कहना है कि उनका बेटा बाहर रोजगार के लिए विदेश गया हुआ है, बहू पिछले कई महीनों से अलग रह रही थी. बहू राम सेवक के प्रभाव में थी.

बिजनौर के एसपी प्रभाकर चौधरी का कहना है कि बढ़ापुर के गांव शाहलीपुर में 3 अक्टूबर सुबह महिला का शव खेत में होने की सूचना मिली थी. मौके पर पुलिस ने मुआयना किया तो महिला की मौत संदिग्ध परिस्थितियों में होने के संकेत मिले. सभी तथ्यों की जांच की जा रही है.

एसपी ने ये भी कहा कि महिला का पति विदेश में था और वो अलग रह रही थी. पुलिस तमाम पहलुओं को लेकर जांच कर रही है. एसपी ने उम्मीद जताई कि जल्दी ही केस को सुलझा लिया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay