एडवांस्ड सर्च

मुजफ्फरपुरः दबंगों की दरिंदगी, मासूमों को पहले पीटा फिर मोमबत्ती से जलाया

मुजफ्फरपुर के एक गांव में भीड़ ने 3 मासूमों की इसलिए पिटाई कर दी क्योंकि उन पर चोरी का शक था. पिटाई के बाद बच्चों के निजी अंगों के साथ कई जगहों पर मोमबत्ती से भी जलाया गया.

Advertisement
aajtak.in
रोहित कुमार सिंह पटना, 10 July 2020
मुजफ्फरपुरः दबंगों की दरिंदगी, मासूमों को पहले पीटा फिर मोमबत्ती से जलाया सांकेतिक तस्वीर (पीटीआई)

  • घटना को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी फरार
  • वारदात के 5 दिन बाद परिजनों ने शिकायत की
कोरोना वायरस के संकट के दौर में मुजफ्फरपुर में भीड़ का अमानवीय चेहरा सामने आया है. यहां चोरी के आरोप में तीन बच्चों को पहले खंभे से बांधकर पीटा गया और उससे भी मन नहीं भरा तो फिर उन लोगों को जलती मोमबत्ती से प्रताड़ित किया गया. सभी बच्चों की उम्र 8 से 10 साल के बीच है.

हालांकि यह मामला 5 जुलाई का है जब साहिबगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत हुसेपुर गांव में भीड़ की दरिंदगी देखने को मिली.

दरअसल, चोरी के आरोप में गांव के दबंग प्रदीप राय और सुदीप राय समेत उनके परिजनों ने 3 बच्चों को पकड़ा और एक झोपड़ी में ले जाकर उन्हें खंभे से बांध दिया. इस बाद उनकी जमकर उनकी पिटाई की. दबंगों ने आरोप लगाया कि बच्चों ने प्रदीप राय के पैसे चोरी किए थे.

निजी अंगों को भी जलाया

पिटाई के बाद भी जब दबंगों का दिल नहीं भरा तो जलती हुई मोमबत्ती से मासूम बच्चों के शरीर के निजी अंगों समेत कई हिस्सों को जला दिया. इस दौरान बच्चे रो-रो कर अपनी जान की भीख मांग रहे थे मगर दबंगों का दिल नहीं पसीजा.

इसे भी पढ़ें --- एक हफ्ते से थी तलाश, गिरफ्त में आने के 24 घंटे के अंदर मारा गया विकास दुबे

इस पूरे मामले की जानकारी जब मासूम बच्चों के परिवार वालों ने पुलिस को दी तब उनकी मदद से बच्चों को मुक्त कराया गया.

मामले की प्राथमिकी दर्जः डीएसपी राजेश शर्मा

घटना को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी फरार हो गए हैं. 4 दिन बीत जाने के बाद भी पीड़ित परिवार ने पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं कराई मगर शुक्रवार को हिम्मत जुटाकर एक बच्चे के पिता ने साहिबगंज थाना में शिकायत की जिसके बाद इस पूरे मामले को लेकर पुलिस की नींद खुली.

इसे भी पढ़ें --- क्या ‘नरकलोक’ की जांच के नाम पर लीपापोती कर रही है चित्रकूट पुलिस?

डीएसपी राजेश शर्मा ने इस मसले पर कहा कि इसमें छह लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है और आरोपियों की पहचान की जा रही है. उनके खिलाफ कार्रवाई होगी लेकिन फिलहाल सभी आरोपी फरार है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay