एडवांस्ड सर्च

अब ये महिला संभाल रही है आसाराम का अरबों का साम्राज्य

पूरे देश में आसाराम के 400 से अधिक आश्रम और 40 स्कूल चल रहे हैं. ये पूरा नेटवर्क अब भारती चला रही है. गिरफ़्तारी के बाद से भारती अपने पिता के सबसे भरोसेमंद साथी के सहयोग से आसाराम ट्रस्ट का संचालन कर रही है.

Advertisement
aajtak.in
गोपी घांघर / आशुतोष कुमार मौर्य अहमदाबाद, 27 April 2018
अब ये महिला संभाल रही है आसाराम का अरबों का साम्राज्य आसाराम की बेटी भारती (फोटो साभा- सोशल मीडिया)

रेप केस में स्वयंभू 'भगवान' आसाराम को आजीवन कारावास की सजा हो चुकी है, जबकि उसका बेटा नारायण साईं भी करीब 4 साल से सूरत की जेल में बंद है. आसाराम और नारायण साईं तो जेल में बंद हैं, लेकिन जेल के बाहर उनके दुनियाभर में फैले 400 आश्रम और अरबों का साम्राज्य अब भी कायम है. अब आसाराम का यह अरबों का साम्राज्य उसकी बेटी भारती संभाल रही है.

पूरे देश में आसाराम के 400 से अधिक आश्रम और 40 स्कूल चल रहे हैं. ये पूरा नेटवर्क अब भारती चला रही है. गिरफ़्तारी के बाद से भारती अपने पिता के सबसे भरोसेमंद साथी के सहयोग से आसाराम ट्रस्ट का संचालन कर रही है.

बता दें कि 'संत श्री आसारामजी ट्रस्ट' एक चैरिटेबल संस्था के तौर पर रजिस्टर है. इसका हेडक्वार्टर अहमदाबाद में है. यहीं पर आसाराम ने पहला आश्रम स्थापित किया था. ट्रस्ट से जुड़े लोगों का कहना है कि देश के करीब सभी राज्यों में फैले आश्रम को भारती ही संभाल रही हैं और इसीलिए उन्हें काफी यात्रा करनी पड़ती है.

सूरत रेप केस में भारती भी है आरोपी

सूरत की रेप पीड़िता दोनों बहनों ने आसाराम और उसके बेटे नारायण साईं के साथ-साथ आसाराम की बेटी भारती और उनकी पत्नी लक्ष्मी को भी आरोपी बनाया है. सूरत रेप केस में आसाराम और नारायण साईं तो जेल की हवा खा रहे हैं, लेकिन भारती और लक्ष्मी ज़मानत पर रिहा हैं.

भारती पर आरोप

क्या है भारती की नई पहचान कुछ लड़कियों ने उजागर की है. पीड़िता लड़कियों ने बताया कि वो लड़कियों को गाड़ी में बैठाकर छोड़ने जाती थी ओर लेकर भी आती थी. एक पूर्व साधक अमृत प्रजापति ने आरोप लगाया कि आसाराम भारती को फोन करता था, वो गाड़ी से लड़कियां लाती थी.

क्या भारती पहरेदारी भी करती थी? इस सवाल के जवाब में पीड़िता ने कहा भारती को जैसे बोला जाता था वैसा वो करती थीं, रुकने के लिये बोला जाए तो रुकती भी थीं.

आसाराम की पत्नी लक्ष्मी कि क्या भूमिका थी? इस सवाल के जवाब में पीड़िता ने कहा 'वो लड़िकयों को आश्रम से भेजती थी, बापू उन्हें बोलते थे आज उसे भेजना है, आज उसे भेजना है.'

आसाराम के लिए लड़कियां तैयार करती थी भारती

यानी भारती और उसकी मां आसाराम और उनके बेटे नारायण साईं के कथित सेक्स रैकेट में कड़ी का काम करती थीं. दोनों उनके लिए लड़कियों को तैयार करती थीं. मां-बेटी की जोड़ी लड़कियों के मन में ये बैठाने का काम करती थी कि आसाराम और नारायण साईं उनका कल्याण कर रहे हैं.

आसाराम के खिलाफ कोर्ट में अहम गवाह रहे अमृत प्रजापति ने अपने बयान में कहा था, 'जब लड़कियां बोलती थीं कि गंदा काम हो गया तो दूसरी लड़कियां और लक्ष्मी समझ जाती थीं कि ये तो तेरी काया का कल्याण हो गया.' बता दें कि बाद में अमृत प्रजापति की हत्या कर दी गई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay