एडवांस्ड सर्च

दिल्ली में प्रतिबंध के बावजूद बिक रहा चाईनीज मांझा, बाइकर की काटी गर्दन

दिल्ली के रहने वाले योगेश कुमार के लिए भी ये मांझा जानलेवा साबित हुआ. इस मांझे की वजह से योगेश का गला कट गया. दिल्ली के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में फिलहाल योगेश के गले की सर्जरी की जा रही है.

Advertisement
aajtak.in
हिमांशु मिश्रा नई दिल्ली, 22 July 2017
दिल्ली में प्रतिबंध के बावजूद बिक रहा चाईनीज मांझा, बाइकर की काटी गर्दन योगेश के गले की सर्जरी करनी पड़ी

स्वतंत्रता दिवस जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, रंग-बिरंगी पतंगे आसमान छूती दिखाई देने लगी हैं. लेकिन, इन्ही पतंगों को उड़ाने में इस्तेमाल किया जाने वाला मांझा लोगों के लिए खतरनाक भी साबित हो रहा है. खासतौर से जब वह मांझा चाईनीज हो.

दिल्ली के रहने वाले योगेश कुमार के लिए भी ये मांझा जानलेवा साबित हुआ. इस मांझे की वजह से योगेश का गला कट गया. दिल्ली के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में फिलहाल योगेश के गले की सर्जरी की जा रही है.

घटना शुक्रवार शाम करीब 6 बजे की है. एमिटी यूनिवर्सिटी में काम करने वाला 35 साल का योगेश बाइक पर सवार होकर अपने घर लौट रहा था, जैसे ही वह शकरपुर में यमुना ब्रिज के पास पहुंचा अचानक मांझे की एक डोर उसके गले से आकर टकरा गई. बाइक की स्पीड तेज थी, लिहाजा तेज मांझे से योगेश का गला कट गया.

खून से लथपथ हालत में योगेश बेहोश होकर सड़क पर गिर गया. वहां से गुजर रहे लोगों ने उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया, जहां उसका फिलहाल इलाज चल रहा है. अब योगेश के गले की सर्जरी की जा रही है.

चश्मदीदों के मुताबिक, जिस मांझे से योगेश का गला कटा था वो प्लास्टिक का बना हुआ था, यानी चाईनीज मांझा था, हालांकि, कोर्ट ने चाईनीज मांझे की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया हुआ है, बावजूद इसके दिल्ली के बाजारों में धड़ल्ले से मांझा बिक रहा है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay