एडवांस्ड सर्च

नाभा जेल कांडः ऐसे जेल में घुसे बदमाश...और छुड़ा ले गए KLF चीफ समेत 6 कैदी

रविवार सुबह 10 बंदूकधारी किस तरह से जेल में घुसते हैं, पुलिसकर्मियों पर गोलियां बरसाते हैं और फिर अपने साथियों को लेकर वहां से फरार हो जाते हैं, इस पूरे घटनाक्रम की स्क्रिप्ट कुछ इस तरह है.

Advertisement
aajtak.in
सतेंदर चौहान / राहुल सिंह पटियाला, 27 November 2016
नाभा जेल कांडः ऐसे जेल में घुसे बदमाश...और छुड़ा ले गए KLF चीफ समेत 6 कैदी जेल से फरार आतंकी और खालिस्तान लिबरेशन फोर्स का सरगना मिंटू

पंजाब के पटियाला स्थित नाभा जेल ब्रेक मामले में पंजाब समेत पूरे देश में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में सरगर्मी से कैदियों की तलाश शुरु कर दी गई. पंजाब सरकार ने मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया. फरार कैदियों की सूचना देने पर 25 लाख रुपये के ईनाम की घोषणा कर दी गई. दरअसल रविवार सुबह 10 बंदूकधारी किस तरह से जेल में घुसते हैं, पुलिसकर्मियों पर गोलियां बरसाते हैं और फिर अपने साथियों को लेकर वहां से फरार हो जाते हैं, इस पूरे घटनाक्रम की स्क्रिप्ट कुछ इस तरह हैः

रविवार सुबह तकरीबन 8:30 बजे दो लग्जरी गाड़ियां जेल के बाहर आकर रुकती हैं. गाड़ियों में से पुलिस की वर्दी पहने 6 लोग उतरते हैं. जेल के गेट पर खड़े सुरक्षाकर्मी वर्दी पहने हथियारबंद बदमाशों को पुलिसकर्मी समझते हैं और जेल का दरवाजा खोल देते हैं. सभी बदमाशों के पास पिस्टल, रिवॉल्वर और रायफल जैसे हथियार थे.

जैसे ही वह लोग जेल के दूसरे गेट के पास पहुंचते हैं, वह लोग वहां खड़े गार्ड से गेट की चाबियां छीन लेते हैं और अंधाधुंध गोलियां बरसाना शुरु कर देते हैं. गोलियां बरसाते हुए वह लोग जेल के अंदर दाखिल होते हैं और उस बैरक की ओर जाते हैं, जहां खालिस्तान लिबरेशन फोर्स का चीफ और खूंखार आतंकवादी हरमिंदर सिंह मिंटू बंद था.

गोलियों की गड़गड़ाहट से जेल परिसर में तैनात पुलिसकर्मी बदमाशों से लोहा लेने के बजाय दीवारों के पीछे छिप जाते हैं. दरअसल हैरानी इस बात की है कि इस वारदात के दौरान पुलिसकर्मियों की ओर से जवाबी कार्रवाई के तौर पर एक राउंड फायरिंग भी नहीं की गई, जबकि बदमाशों ने 100 से ज्यादा राउंड फायरिंग की थी. बैरक में बंद आतंकी मिंटू को छुड़वाने के बाद वह लोग 5 और कैदियों को अपने साथ लेकर बेखौफ जेल से बाहर निकलते हैं.

जेल के बाहर पार्किंग में खड़ी गाड़ियां तैयार थी. दरअसल बदमाशों की गाड़ियों से कुछ ही दूरी पर 3 और गाड़ियां खड़ी हुई थी. भागने के दौरान बदमाश जेल से बाईं ओर जा रहे रास्ते की ओर मुड़ गए, लेकिन वह रास्ता आगे से बंद था. जिसके बाद बदमाशों ने यू-टर्न लिया और तेज रफ्तार गाड़ियों से कुछ ही पलों में वहां से ओझल हो गए.

इस दौरान गाड़ियों में बैठे बदमाश लगातार फायरिंग करते रहे. चश्मदीदों की माने तो तकरीबन 30 मिनट के अंदर बदमाश जेल में बंद कैदियों को अपने साथ छुड़ाकर ले गए. फिलहाल इस घटना के बाद पंजाब में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है. सीमा से सटे इलाकों में खासतौर पर सतर्कता बरती जा रही है. वहीं खुफिया एजेंसियों के निर्देश पर उत्तर भारत के सभी एयरपोर्ट्स पर अलर्ट जारी कर दिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay