एडवांस्ड सर्च

फर्जी बीजेपी नेता ने डॉक्टर से की बदसलूकी, जान से मारने की दी धमकी

बीजेपी का नेता होने का दावा करने वाले एक शख्स पर गंभीर आरोप लगे हैं. गनर साथ लेकर चलने वाले राहुल ठाकुर नाम के इस शख्स पर मेरठ के एलएलआरएम मेडिकल कॉलेज के इमरजेंसी वॉर्ड में अपने साथियों के साथ उत्पात मचाने का आरोप है. मेडिकल कॉलेज अस्पताल के ईएमओ डॉक्टर नितिन कुमार प्रियदर्शी के मुताबिक, राहुल ठाकुर ने अपने साथियों के साथ उनसे बदसलूकी की. उन्हें जान से मारने की धमकी दी और सरकारी रजिस्टर फाड़ डाला.

Advertisement
aajtak.in
खुशदीप सहगल मेरठ, 28 March 2017
फर्जी बीजेपी नेता ने डॉक्टर से की बदसलूकी, जान से मारने की दी धमकी कथित बीजेपी नेती ने डॉक्टर को दी जान से मारने की धमकी

बीजेपी का नेता होने का दावा करने वाले एक शख्स पर गंभीर आरोप लगे हैं. गनर साथ लेकर चलने वाले राहुल ठाकुर नाम के इस शख्स पर मेरठ के एलएलआरएम मेडिकल कॉलेज के इमरजेंसी वॉर्ड में अपने साथियों के साथ उत्पात मचाने का आरोप है. मेडिकल कॉलेज अस्पताल के ईएमओ डॉक्टर नितिन कुमार प्रियदर्शी के मुताबिक, राहुल ठाकुर ने अपने साथियों के साथ उनसे बदसलूकी की. उन्हें जान से मारने की धमकी दी और सरकारी रजिस्टर फाड़ डाला.

डॉ. नितिन का आरोप है कि राहुल ठाकुर के साथ एक शख्स था, जो खुद को राहुल का भाई और वकील बता रहा था, उसने कहा, 'मैं दिल्ली बैठता हूं और वहीं से तुम्हारा घर बिकवा दूंगा, साथ ही तुम्हें नौकरी करना भी सिखा दूंगा.' राहुल ठाकुर खुद को बेशक बीजेपी का नेता बताए लेकिन मेरठ में बीजेपी के मीडिया प्रभारी अनिल सिसौदिया ने उसके पार्टी से किसी भी तरह के संबंध होने से इनकार किया है.

मन मुताबिक मेडिकल रिपोर्ट के लिए बनाया दबाव
डॉ. नितिन का कहना है कि उन पर राहुल ठाकुर और उनके साथ आए लोगों की ओर से अपने मन मुताबिक मेडिकल रिपोर्ट लिखने के लिए दबाव डाला जा रहा था. डॉ. नितिन के मुताबिक, मेडिकल थाने से राहुल ठाकुर को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया था. राहुल ठाकुर की नाक पर चोट थी और छाती में हल्की सूजन थी, जिसकी रिपोर्ट बना दी गई और रजिस्टर में दर्ज कर दी गई. इसी पर राहुल ठाकुर का भाई बताने वाले शख्स ने रजिस्टर फाड़ दिया और साथ ही कहा तुम सब बिके हुए हो.

हथियार लेकर आए थे अस्पताल
डॉ. नितिन के मुताबिक, राहुल के साथ आए कुछ लोगों के पास हथियार भी थे. राहुल ने पुलिस वालों पर भी उसे पीटने का आरोप लगाया. राहुल ठाकुर का कहना है कि वो बीजेपी का नेता होने के साथ ही गौरक्षा के लिए भी काम करता रहा है. राहुल ठाकुर के मुताबिक उसे जागृति विहार में एक जगह अवैध मीट का कारोबार होने की सूचना मिली थी. वो जब वहां पहुंचा तो उस पर हमला कर दिया गया. राहुल का आरोप है कि पुलिस वालों ने भी उसकी पिटाई की.

राहुल ने की थी फैक्ट्री मालिक से बात
इस संबंध में तहकीकात की गई तो पता चला कि जागृति विहार इलाके में क्रिकेट बैट बनाने वाली एक फैक्ट्री से कथित तौर पर अवैध मीट को पकड़वाने के लिए बजरंग दल के सदस्य रविवार रात को पहुंचे थे. जब ये सब हो रहा था तो राहुल ठाकुर भी वहां पहुंच गया. एक चश्मदीद के मुताबिक, राहुल का फोन देखा गया तो उस पर फैक्ट्री के मालिक के नंबर से कॉल हुई थी. राहुल पर ये आरोप लगाया गया कि वो फैक्ट्री मालिक का साथ दे रहा है और उसके भी अवैध मीट पैकेजिंग से कारोबारी हित जुड़े हैं.

राहुल ठाकुर का नहीं है बीजेपी से संबंध
इस बीच बीजेपी के मेरठ जिला प्रभारी अनिल सिसौदिया ने राहुल ठाकुर का पार्टी से किसी भी तरह का संबंध होने से इनकार कर दिया है. इस घटना के बाद से ही मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टर्स में रोष व्याप्त है. उन्होंने राहुल ठाकुर के खिलाफ शीघ्र कार्रवाई नहीं होने की स्थिति में हड़ताल पर जाने की बात कही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay