एडवांस्ड सर्च

UP: अपनी 3 बेटियों से रेप करता था पिता, बच्चियों ने की खुदकुशी की कोशिश

बड़ी लड़की ने बताया कि उसके पिता सुरेंद्र साहू उसका और उसकी दोनों छोटी बहनों का यौन उत्पीड़न करता था और विरोध करने पर मारपीट भी करता था.

Advertisement
aajtak.in
शि‍वेंद्र श्रीवास्तव/ आशुतोष कुमार मौर्य बाराबंकी, 21 April 2018
UP: अपनी 3 बेटियों से रेप करता था पिता, बच्चियों ने की खुदकुशी की कोशिश घटना के बाद से ही पिता फरार

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाबालिगों से रेप के दोषियों को फांसी की सजा देने के लिए केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेज दिया है, लेकिन नाबालिगों के साथ रेप की घटनाएं रुकने का नाम ही नहीं ले रहीं. अब उत्तर प्रदेश के बाराबंकी से कलयुगी पिता द्वारा अपनी ही तीन बेटियों के साथ रेप करने, मारपीट करने और उन्हें खुदकुशी के लिए उकसाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है.

घटना का खुलासा तब हुआ जब तीनों बच्चियां ट्रेन से कटकर जान देने पहुंच गईं. आत्महत्या की कोशिश में एक बच्ची का पैर कट गया. स्थानीय लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने तीनों बच्चियों को अपनी सुरक्षा में ले लिया और घायल बच्ची को इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करवाया है.

पुलिस ने बताया कि तीनों बच्चियां थाना रामसनेही घाट के भिटरिया में अपने पिता के साथ रह रही थीं. पूछताछ के दौरान तीनों बहनों में सबसे बड़ी लड़की ने बताया कि उसके पिता सुरेंद्र साहू उसका और उसकी दोनों छोटी बहनों का यौन उत्पीड़न करता था और विरोध करने पर मारपीट भी करता था.

जानकारी के मुताबिक, आरोपी पिता ने मारपीट कर अपनी पत्नी को घर से भगा दिया था. इसके बाद मां तो अपने मायके रहने लगी थी, लेकिन तीनों बेटियां पिता के साथ ही रहती थीं. लेकिन पिता ने रिश्तों को तार-तार करते हुए अपनी तीनों ही बेटियों का यौन शोषण शुरू कर दिया.

पीड़ित बड़ी लड़की ने बताया कि उसने अपने पिता पिता को रात के वक्त छोटी बहन के साथ गलत काम करते हुए देख लिया, जिसके बाद उसने विरोध किया तो पिता ने उसे मार कर घर से भगा दिया. आखिरकार शुक्रवार को कलयुगी पिता ने तीनों बेटियों को यह कहकर घर से भगा दिया कि वे जाकर खुदकुशी कर लें.

बस तीनों बच्चियां दरियाबाद रेलवे स्टेशन के नजदीक रेल की पटरियों पर खुदकुशी के उद्देश्य से जा बैठीं. हालांकि ट्रेन आता देख वे डर गईं और भागने के दौरान बड़ी लड़की का पैर कट गया. दुर्घटना देख ग्रामीण इकट्ठा हो गए और पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने घायल बच्ची को उपचार के लिए पहले बाराबंकी के जिला अस्पताल ले गई, जहां से उन्हें लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया.

वहीं छोटी बहन ने आरोप लगाया है कि उसने पुलिस से कई बार पिता की शिकायत की, लेकिन पुलिस ने कुछ नहीं किया. बाराबंकी के एडिशनल SP शशिकांत तिवारी ने बताया कि दरियाबाद के रानीपुर क्रासिंग पर तीन लड़कियों ने आत्महत्या का प्रयास किया है.

उन्होंने बताया कि सबसे बड़ी लड़की को ज़्यादा चोट आई है. बच्चियां पिता से क्षुब्ध थीं, इसलिए उन्होंने यह कदम उठाया. मामले की जांच की जा रही है. इसमें वैधानिक कार्रवाई की जाएगी. इस बीच घटना सामने आने के बाद से आरोपी पिता फरार है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay