एडवांस्ड सर्च

Advertisement

अंधविश्वास के चक्कर में चाचा ने दे दी भतीजे की ही बलि

aajtak.in [Edited By: कुणाल कौशल]
10 June 2019
अंधविश्वास के चक्कर में चाचा ने दे दी भतीजे की ही बलि
1/5
ओडिशा के खरियार में अंधविश्वास के चक्कर में एक शख्स ने अपने ही भतीजे की बलि दे दी. दरअसल अच्छी फसल की चाहत में पेड़ की डाली काटने में मदद के बहाने ले जाकर चाचा ने खेत में उसकी बलि चढ़ा दी. इस घटना के बाद से पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है. (सभी तस्वीरें सांकेतिक हैं)
अंधविश्वास के चक्कर में चाचा ने दे दी भतीजे की ही बलि
2/5
छत्तीसगढ़ की सीमा पर ओडिशा के खरियार के जाड़ामुंडा गांव में यह वारदात हुई है. जाड़ामुंडा के रहनेवाले चिंतामणि मांझी बड़े भतीजे को लेकर खेत में काम करने चले गए.
अंधविश्वास के चक्कर में चाचा ने दे दी भतीजे की ही बलि
3/5
सुबह के करीब 11 बजे जब छोटा भतीजा धनसिंह खाना लेकर खेत पहुंचा तो चिंतामणि ने पेड़ की डाल काटने में मदद के बहाने उसे साथ ले गए और खेत में बलि दे दी.
अंधविश्वास के चक्कर में चाचा ने दे दी भतीजे की ही बलि
4/5
अपने चाचा का खून से सना हाथ और गंडासा देखकर बड़ा भतीजा बुरी तरह डरकर चिल्लाने लगा. चीख सुनकर पास ही काम कर रहे ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी जिसके बाद आरोपी चाचा को गिरफ्तार कर लिया गया.
अंधविश्वास के चक्कर में चाचा ने दे दी भतीजे की ही बलि
5/5
पूछताछ में आरोपी चिंतामणि ने बताया कि उसके फसल की पैदावार कम हो रही थी जिसके बाद किसी ने उसे बताया कि खेत में बलि देने पर पैदावार बढ़ सकता है. इसी के बाद उन्होंने अपने भतीजे की बलि देने का मन बना लिया था.
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay