एडवांस्ड सर्च

Advertisement

विश्व कप में भी शतकों के बादशाह बने सचिन

टेस्ट और एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक शतक जड़ने वाले रिकार्डों के बादशाह सचिन तेंदुलकर इंग्‍लैंड के खिलाफ 120 रन की पारी खेलकर विश्व कप में भी सबसे अधिक सैकड़े जड़ने वाले बल्लेबाज बन गये.
विश्व कप में भी शतकों के बादशाह बने सचिन
भाषाबैंगलूर, 27 February 2011

टेस्ट और एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक शतक जड़ने वाले रिकार्डों के बादशाह सचिन तेंदुलकर इंग्‍लैंड के खिलाफ 120 रन की पारी खेलकर विश्व कप में भी सबसे अधिक सैकड़े जड़ने वाले बल्लेबाज बन गये.

तेंदुलकर ने इंग्लैंड के खिलाफ चिन्नास्वामी स्टेडियम में 120 रन की लाजवाब पारी खेली जो विश्व कप में उनका पांचवां शतक है. इस तरह से उन्होंने हमवतन सौरव गांगुली तथा आस्ट्रेलियाई रिकी पोंटिंग और मार्क वा को पीछे छोड़ा जिनके नाम पर चार-चार शतक दर्ज हैं.

वनडे में दोहरा शतक जड़ने वाले एकमात्र बल्लेबाज तेंदुलकर ने विश्व कप में अपना पहला शतक 1996 में कीनिया के खिलाफ कटक में बनाया था. तब उन्होंने नाबाद 127 रन की पारी खेली थी. इसके बाद उन्होंने उसी विश्व कप में दिल्ली में आस्ट्रेलिया के खिलाफ 137 रन की पारी भी खेली थी जो उस समय उनका सर्वाधिक एकदिवसीय स्कोर भी था.

तेंदुलकर ने 1999 विश्व कप में अपने पिता रमेश तेंदुलकर के अंतिम संस्कार में भाग लेकर वापस इंग्लैंड लौटने के बाद कीनिया के खिलाफ नाबाद 140 रन बनाये थे जबकि 2003 में उन्होंने नामीबिया के गेंदबाजों पर बरसते हुए 152 रन की लाजवाब पारी खेली थी जो विश्व कप में उनका सर्वाधिक स्कोर भी है.

तेंदुलकर विश्व कप में 2000 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बनने के करीब भी पहुंच गये हैं. उनके नाम पर अब 38 मैच में 1944 रन दर्ज हैं. तेंदुलकर ने आज अपनी 120 रन की पारी के दौरान पांच छक्के भी लगाये और इस तरह से एकदिवसीय अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के जड़ने के गांगुली के भारतीय रिकार्ड भी बराबरी की. इन दोनों के नाम पर अब 190 छक्के दर्ज हैं.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay