एडवांस्ड सर्च

संगकारा ने श्रीलंका की कप्तानी छोड़ी

क्रिकेट वर्ल्‍डकप 2011 के फाइनल मैच में भारत से हारने के बाद कुमार संगकारा ने श्रीलंका की एक दिवसीय और टी 20 क्रिकेट टीमों की कप्तानी छोड़ दी है. संगकारा हालांकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी श्रृंखलाओं तक अस्थायी तौर पर टेस्ट टीम के कप्तान बने रहेंगे.

Advertisement
भाषाकोलंबो, 05 April 2011
संगकारा ने श्रीलंका की कप्तानी छोड़ी कुमार संगकारा

क्रिकेट वर्ल्‍डकप 2011 के फाइनल मैच में भारत से हारने के बाद कुमार संगकारा ने श्रीलंका की एक दिवसीय और टी 20 क्रिकेट टीमों की कप्तानी छोड़ दी है. संगकारा हालांकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी श्रृंखलाओं तक अस्थायी तौर पर टेस्ट टीम के कप्तान बने रहेंगे.

संगकारा ने एक बयान में कहा, ‘मैं यह घोषणा करना चाहता हूं कि काफी सोच समझकर टीम के दीर्घकालिन हित में मैने यह फैसला लिया है ताकि एक नया कप्तान अगले विश्वकप के लिये टीम को अच्छी तरह तैयार कर सके.’

उन्होंने कहा, ‘मैने विश्वकप 2011 से पहले यह फैसला किया था. मैं अगले विश्वकप तक 37 बरस को हो जाउंगा और टीम में मेरी जगह भी पक्की नहीं रहेगी. बेहतर यही होगा कि श्रीलंका की अगुवाई ऐसा क्रिकेटर करे जो उस समय तक अपने कैरियर के शिखर पर हो.’

टेस्ट टीम में संगकारा की जगह तिलन समरवीरा ले सकते हैं जबकि तिलकरत्ने दिलशान और एंजेलो मैथ्यूज क्रमश: वनडे और टी-20 टीम के कप्तान हो सकते हैं. संगकारा हालांकि अगले कुछ साल तक खेल के सभी प्रारूपों में खेलते रहना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘फिलहाल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का मेरा कोई इरादा नहीं है. फॉर्म और फिटनेस बनी रही तो मैं तीनों प्रारूपों में खेलते रहना चाहूंगा.’

उन्होंने कहा, ‘पिछले दो साल से टीम की कप्तानी संभालना मेरे लिये फख्र की बात रही. फाइनल नहीं जीत पाने का दुख है लेकिन मुझे अपने टीम के प्रदर्शन पर गर्व है.’ उन्होंने कहा, ‘मैं सोमवार को चयनकर्ताओं से मिला और अपने फैसले का कारण बताया. मैं नये कप्तान की पूरी मदद करने को तैयार हूं. इसके लिये मैने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट श्रृंखलाओं में अस्थायी तौर पर कप्तानी संभालने की भी पेशकश की है.’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay