एडवांस्ड सर्च

Advertisement

खराब अंपायरिंग के कारण हारे कश्यप

पहली बार राष्ट्रमंडल खेलों में शिरकत कर रहे भारत के पी कश्यप खराब अंपायरिंग के कारण दूसरे वरीय इंग्लैंड के राजीव ओसेफ के हाथों शिकस्त के साथ बैडमिंटन की व्यक्गित स्पर्धा के फाइनल में पहुंचने से चूक गये.
खराब अंपायरिंग के कारण हारे कश्यप
12 October 2010

पहली बार राष्ट्रमंडल खेलों में शिरकत कर रहे भारत के पी कश्यप खराब अंपायरिंग के कारण दूसरे वरीय इंग्लैंड के राजीव ओसेफ के हाथों शिकस्त के साथ बैडमिंटन की व्यक्गित स्पर्धा के फाइनल में पहुंचने से चूक गये.

संघषर्पूर्ण सेमीफाइनल के निर्णायक गेम में एक समय कश्यप और राजीव 18-18 से बराबर चल रहे थे और तभी इंग्लैंड के खिलाड़ी को क्रास कोर्ट स्मैश बाहर गया लेकिन अंपायर ने इसे ‘इन’ करार दिया.

कश्यप ने विरोध किया लेकिन दक्षिण अफ्रीका के चेयर अंपायर लारेंस बेस्टर ने फैसला नहीं बदला और इसके बाद भारतीय खिलाड़ी ने दो और अंक गंवाये और निर्णायक गेम 21-19 से गंवा दिया. इसके बाद कश्यम का समर्थन कर रहे दर्शकों ने ‘धोखेबाज, धोखेबाज’ के नारे लगाये और मैच के बाद राजीव की हूटिंग की.

कश्यप ने मैच के बाद कहा, ‘यह साफ तौर पर बाहर था. अंपायर इस फैसले को बदल सकता था लेकिन उसने ऐसा नहीं करने का फैसला किया. यहां तक कि आप लोगों ने भी बड़ी स्क्रीन पर देखा कि यह बाहर था. मैं क्या कह सकता हूं. मैं काफी निराश हूं. इसकी वजह से मैंने मैच गंवा दिया.’

इससे पहले जब कश्यप 3- 0 से आगे चल रहा था तब राजीव ने एक अंक गंवाया जब उनका रेकेट नेट को क्रास कर गया. राजीव का हालांकि मानना था कि यह फैसला गलत था इसलिए मामला बराबर हो गया. कश्यप अब कांस्य पदक के मुकाबले में कल चेतन आनंद का सामना करेंगे.

चेतन एक अन्य सेमीफाइनल में दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी मलेशिया के शीर्ष वरीय ली चोंग वेई से हार गये. राजीव गुरुवार को फाइनल में ली चोंग वेई से भिड़ेंगे. इससे पहले कश्यप ने पहले गेम में अच्छी शुरूआत की और 11-6 की बढ़त बनाने के बाद स्कोर 20-17 किया और फिर पहला गेम जीत लिया.

दूसरे गेम में हालांकि कश्यप ने कई गलतियां की जिससे राजीव ने 7-0 की बढ़त बनाई और फिर उन्हें दूसरा गेम जीतने में दिक्कत नहीं हुई. निर्णायक सेट में भी कश्यप ने 11-6 की बढ़त बनाई लेकिन बाद में लय गंवा दी और गेम तथा मैच गंवा दिया.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay