एडवांस्ड सर्च

Advertisement

साइना एंड कंपनी बैडमिंटन के क्वार्टर फाइनल में

खिताब की प्रबल दावेदार साइना नेहवाल सहित भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों ने व्यक्तिगत मुकाबलों में अपना विजय अभियान जारी रखते आज यहां क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी.
साइना एंड कंपनी बैडमिंटन के क्वार्टर फाइनल में
भाषानई दिल्‍ली, 11 October 2010

खिताब की प्रबल दावेदार साइना नेहवाल सहित भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों ने व्यक्तिगत मुकाबलों में अपना विजय अभियान जारी रखते आज यहां क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी.

शीर्ष वरीयता प्राप्त साइना ने महिला एकल में उत्तरी आयरलैंड की कारोलिन ब्लैक को 21-0, 21-2 से जबकि अदिति मुतादकर ने स्काटलैंड की क्रिस्टी गिलमर को 21-11, 21-17 से हराया .

छठी वरीयता प्राप्त पी कश्यप ने पुरुषों के प्री क्वार्टर फाइनल में स्काटलैंड के कीरन मेरीलीस को 21-12, 21-15 से हराकर अपने पहले पदक की आस बरकरार रखी जबकि तीसरी वरीयता प्राप्त चेतन आनंद ने जेमी वान हूइजडोंक को 21-8, 21-2 से हराया.

ज्वाला गुटा और वी दीजू ने हमवतन रूपेश कुमार और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी को केवल 25 मिनट में 15-21, 21-18, 21-16 से हराया लेकिन सनावे थामस और अपर्णा बालान की जोड़ी क्रिस एडकाक और गैबी व्हाइट से 15-21, 18-21 से हार गयी.

दुनिया में तीसरे नंबर की खिलाड़ी साइना ने ब्लैक की चुनौती को ध्वस्त करने में कोई समय नहीं लगाया . उत्तरी आयरलैंड की खिलाड़ी पर साइना से भिड़ने का दबाव साफ दिख रहा था और उनके अधिकतर रिटर्न या तो बाहर गये या फिर नेट्स पर टकराये. दूसरे गेम में वह केवल दो प्वाइंट ही बना पायी जिसे दर्शकों ने भी सराहा.

साइना ने कहा, ‘यह आसान मैच था. वह बहुत नर्वस था. मैं जानता हूं कि यह उसके लिये मुश्किल था. मैंने दूसरे गेम में कुछ रैलीज खेलने की कोशिश की लेकिन उसने अधिकतर शटल बाहर मार दिये.’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay