एडवांस्ड सर्च

बैडमिंटन में भारत का विजयी अभियान जारी

शीर्ष वरीय सायना नेहवाल की अगुवाई में भारतीय खिलाड़ियों ने रविवार को राष्ट्रमंडल खेलों में अपना विजयी अभियान जारी रखा जब बैडमिंटन के एकल और युगल वर्ग में उसके सभी खिलाड़ी जीतने में सफल रहे.

Advertisement
भाषानई दिल्‍ली, 10 October 2010
बैडमिंटन में भारत का विजयी अभियान जारी

शीर्ष वरीय सायना नेहवाल की अगुवाई में भारतीय खिलाड़ियों ने रविवार को राष्ट्रमंडल खेलों में अपना विजयी अभियान जारी रखा जब बैडमिंटन के एकल और युगल वर्ग में उसके सभी खिलाड़ी जीतने में सफल रहे.

दुनिया की तीसरे नंबर की सायना ने यहां सिरी फोर्ट खेल परिसर में वेल्स की सारा थामस को 21-5, 21-9 से हराकर राष्ट्रमंडल खेलों के अपने पहले स्वर्ण पदक की ओर मजबूती से कदम बढ़ाया जबकि मेलबर्न में 2006 में कांस्य पदक जीतने वाले चेतन आनंद ने पुरुष एकल में 21 मिनट में नाईजीरिया के ओला फागबेमी को 21-12, 21-6 से शिकस्त देकर तीसरे दौर में जगह बनाई.

राष्ट्रमंडल खेलों में पहली बार शिरकत कर रहे पी कश्यप और अदिति मुतातकर अपने अपने वर्ग के दूसरे दौर के मैचों में सीधे गेमों में जीत के साथ तीसरे दौर में प्रवेश करने में सफल रहे.

छठे वरीय कश्यप ने जमैका के पाइन चार्ल्स को 21-5, 21-12 जबकि पांचवीं वरीय अदिति ने 17 मिनट में श्रीलंका की सुबोधा कुमारी को 21-14, 21-7 से हराया.

पहले दौर में बाई हासिल करने वाली ज्वाला गुट्टा और वी दीजू की मिश्रित युगल जोड़ी भी तीसरे दौर में जगह बनाने में सफल रही. दुनिया की इस 11वें नंबर की जोड़ी ने जमैका के हेनरी गैरेथे आंद्रे थियोडोर और क्रिस्टल काजरेन की जोड़ी को 14 मिनट में 21-13, 21-8 से हराकर बाहर किया.

रूपेश कुमार और अश्विनी पोनप्पा को हालांकि संघर्ष करना पड़ा और यह जोड़ी संघर्ष मुकाबले में 36 मिनट तक जूझने के बाद ही वीरन राज और विथी वीरन रेगुना की आस्ट्रेलिया की जोड़ी को 21-16, 18-21, 21-18 से हरा पाई. कश्यप को पहले गेम में जमैका के खिलाड़ी से कोई टक्कर नहीं मिली

उन्होंने 5-2 की बढ़त बनाने के बाद लगातार 12 अंक के साथ स्कोर 19-5 किया और फिर आसानी से पहला गेम जीत लिया. दूसरे गेम में भी कश्यप ने अच्छी शुरूआत करते हुए 6-0 की बढ़त बनाई और फिर इसे आसानी से बरकरार रखते हुए गेम और मैच जीत लिया.

उन्होंने मैच के बाद कहा, ‘यह आसान मैच था. मैंने काफी स्ट्रोक खेले और अच्छी लय में था. दूसरे गेम में मैंने काफी क्रास शाट खेले और मुझे इससे अच्छे अंक मिले. अगला मैच मुश्किल होगा और उम्मीद करता हूं कि मैं इसमें भी अच्छा प्रदर्शन करूंगा.’

पहले दौर में बाई हासिल करने वाली सायना ने बेहद तेज शुरूआत की और जल्द ही 11-3 की बढ़त बना ली. साइना ने इसके बाद 10 अंक बनाये और सिर्फ एक अंक गंवाकर पहला गेम जीत लिया. सायना को इसके बाद दूसरा गेम जीतने में भी परेशानी नहीं हुई.

सायना ने मैच के बाद कहा, ‘आज मेरे स्ट्रोक अच्छी तरह लग रहे थे और मैं तेज भी खेली. मैं टीम स्पर्धा के दौरान भी अच्छा खेल रही थी. दूसरे गेम में मेरे कुछ क्रास कोर्ट स्मैश बाहर गये लेकिन इसके अलावा मैंने कोई बड़ी गलती नहीं की.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay