एडवांस्ड सर्च

नाडा से अनुमति के बाद रिचा और ज्योत्सना टीम में

भारतीय तैराकी संघ के महासचिव वीरेंद्र नानावटी ने पुष्टि की कि डोपिंग के कारण अस्थायी निलंबन हटने के बाद रिचा मिश्रा और ज्योत्सना पंसारे को राष्ट्रमंडल खेल की टीम में शामिल कर लिया गया है.

Advertisement
भाषानइ दिल्‍ली, 03 October 2010
नाडा से अनुमति के बाद रिचा और ज्योत्सना टीम में

भारतीय तैराकी संघ के महासचिव वीरेंद्र नानावटी ने पुष्टि की कि डोपिंग के कारण अस्थायी निलंबन हटने के बाद रिचा मिश्रा और ज्योत्सना पंसारे को राष्ट्रमंडल खेल की टीम में शामिल कर लिया गया है.

इससे तैराकी दल की संख्या 30 हो गयी. नानावटी ने कहा, ‘नाडा की अनुमति के बाद हमने इन दोनों तैराकों को टीम में शामिल किया है. हमने नाडा से इनके निलंबन हटने का पत्र मिला जिसके बाद हमने यह फैसला किया और राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति ने भी इस पर सहमति जता दी है.’

नानावटी ने कहा कि अब निलंबन हटने के बाद ये दोनों खिलाड़ी राष्ट्रमंडल खेलों में भाग ले सकती हैं. यह पूछने पर कि क्या विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी ने इसे मंजूरी दे दी है क्योंकि वाडा के महासचिव डेविड हामैन ने इस पर संदेह व्यक्त किया था कि अगर भविष्य में कुछ भी समस्या होती है तो इसकी जिम्मेदारी राष्ट्रीय संस्था की होगी.

उन्होंने कहा, ‘हमने नाडा की सूचना के मुताबिक काम किया है क्योंकि यह हमारी राष्ट्रीय संस्था है और इस पर विस्तृत जानकारी वाडा ही दे सकता है.’

इन दोनों महिला तैराकों को मिथाइलहेक्साएमाइन के पाये जाने के बाद दोषी ठहराया गया था, लेकिन फिर राष्ट्रीय डोपिंग रोधी संस्था (नाडा) ने उन पर से अस्थायी प्रतिबंध हटा दिया क्योंकि इस प्रतिबंधित पदार्थ को वाडा ने 2011 प्रतिबंधित पदाथरें की गैर निर्दिष्ट सूची से निर्दिष्ट में शामिल कर दिया.

वहीं तैराकी कोच प्रदीप कुमार ने कहा, ‘इन दोनों तैराकों के शामिल होने से हमारा दल 30 तैराकों का हो गया है. नाडा ने हमें जो पत्र भेजा उसके बाद हमने इन दोनों को दल में शामिल किया है.’

पदक की उम्मीदों के बारे में उन्होंने कहा, ‘आस्ट्रेलिया, कनाडा, दक्षिण अफ्रीका के तैराक काफी अच्छे हैं. इन देशों से कड़ी चुनौती मिलेगी . हम दो तीन पदक की उम्मीद कर रहे हैं, लेकिन स्वर्ण के बारे में कहना काफी मुश्किल है.’

कोच से जब महिला दल के पदकों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘महिलाओं से उम्मीदें काफी कम हैं, लेकिन पुरूषों में संदीप सेजवाल, रेहना पोंचा, वीरधवल खाडे से पदक की उम्मीदें हैं.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay