एडवांस्ड सर्च

Advertisement

शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा

aajtak.in [Edited By: अमित दुबे]
09 September 2018
शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा
1/8
उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने जाली नोट छापने वाले गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर उनसे हजारों रुपये के नकली नोट और स्कैनर तथा प्रिंटर बरामद किया.
शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा
2/8
एसटीएफ सूत्रों ने बताया कि शनिवार को सूचना मिलने पर एसटीएफ की एक टीम ने चिनहट थाना क्षेत्र स्थित देवा मार्ग पर राय इन्क्लेव गेट के पास देशराज यादव और रामरतन शर्मा नामक दो व्यक्तियों को धर दबोचा.
शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा
3/8
सुरक्षाबलों को उनके कब्जे से 8700 रुपये की जाली करेंसी नोट, 336 अर्द्धनिर्मित नोट, तीन मोबाइल फोन, एक प्रिंटर तथा स्कैनर इत्यादि बरामद किए हैं.
शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा
4/8
गिरफ्तार अभियुक्त देशराज ने पूछताछ में एसटीएफ को बताया कि वह इससे पहले कार्ड छापने वाले प्रेस में शादी और अन्य कार्ड की डिजाइनिंग का काम करता था.
शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा
5/8
कार्ड छापने के दौरान उसने जाली नोट तैयार कर उसे छापने का तरीका पता चला और वह एक वर्ष से इस प्रकार के ऐसे नोट छाप कर बाजारों में चला रहा था.
शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा
6/8
एसटीएफ की मानें तो दोनों आरोपियों ने कबूला है कि वे अब तक लगभग 9 लाख रुपये के जाली नोट छाप कर प्रदेश के विभिन्न जिलों में खपा चुका है.
शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा
7/8
यही नहीं, पूछताछ में दोनों ने बताया कि उसके इस काम में बाराबंकी के निवासी उदय शर्मा और दिनेश शर्मा भी शामिल थे.
शादी का कार्ड छापते-छापते छापने लगा नकली नोट, ऐसे हुआ खुलासा
8/8
अब एटीएफ के जवानों ने उन मददगारों की तलाश तेज कर दी है. वहीं गिरफ्तार अभियुक्तों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की गई है.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay