एडवांस्ड सर्च

Advertisement

नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!

aajtak.in [Edited By: अमित दुबे]
11 June 2019
नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!
1/8
अनिल धीरूभाई अंबानी समूह के चेयरमैन अनिल अंबानी ने एक बार फिर बाकी के कर्ज चुकाने का भरोसा दिया है. मंगलवार को अंबानी ने कहा कि उनके समूह ने पिछले 14 महीने में 35,400 करोड़ रुपये का कर्ज चुकाया है.
नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!
2/8
उन्होंने कहा कि इस कर्ज को चुकाने के लिए कंपनी ने कई संपत्तियां तक बेच दीं. साथ ही उन्होंने भरोसा दिया कि रिलायंस ग्रुप बाकी कर्ज का भुगतान भी समय पर करने में सफल रहेगा.
नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!
3/8
अनिल अंबानी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि अप्रैल 2018 से मई 2019 तक उनकी कंपनी ने 35,400 करोड़ रुपये का कर्ज चुकाया है, जिसमें मूलधन 24,800 रुपये और 10,600 करोड़ रुपये का ब्याज शामिल है.
नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!
4/8
35,400 रुपये का ये कर्ज रिलायंस कैपिटल, रिलायंस पावर, रिलायंस इन्फ्रा और इनसे जुड़ी कंपनियों ने चुकाया गया है, कंपनी की मानें तो इतनी बड़ी रकम चुकाने के लिए कोई दूसरा कर्ज नहीं लिया गया.
नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!
5/8
रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन अनिल अंबानी ने कहा कि खराब हालात में भी उन्होंने कर्ज चुकाया है और बाकी के बचे कर्ज भी चुकाने की कोशिश जारी रहेगी.
नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!
6/8
दरअसल अनिल अंबानी का बयान ऐसे समय पर आया है जब ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में तेजी से गिरावट का दौर जारी है. जनवरी से अब तक ग्रुप की लिस्टेड कंपनियों की वैल्यू करीब 65 फीसदी तक घट चुकी है.
नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!
7/8
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रिलायंस ग्रुप पर करीब 1 लाख करोड़ रुपये का कर्ज है, जिसमें 49,000 करोड़ रुपये का कर्ज रिलायंस कम्यूनिकेशंस (आरकॉम) पर है. कुछ महीने पहले आरकॉम ने दिवालिया होने की अर्जी दी थी, जिसकी प्रक्रिया शुरू हो चुकी है.
नहीं सुधर रही है कंपनी की सेहत, अनिल अंबानी का कर्ज पर बड़ा बयान!
8/8
गौरतलब है कि इसी साल अप्रैल में 485 करोड़ रुपये की मदद देकर मुकेश अंबानी ने छोटे भाई अनिल अंबानी को जेल जाने से बचाया था. एरिक्सन के भुगतान के विवाद में सुप्रीम कोर्ट ने अनिल अंबानी से कहा था कि तय समय पर भुगतान नहीं किया तो अवमानना की कार्रवाई होगी और जेल जाना पड़ेगा.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay