एडवांस्ड सर्च

Advertisement

विनिवेश के लिए सरकार का बड़ा लक्ष्य, क्या इसे प्रैक्टि‍कल माना जाए?

विनिवेश के लिए सरकार का बड़ा लक्ष्य, क्या इसे प्रैक्टि‍कल माना जाए?
aajtak.inनई दिल्‍ली, 05 July 2019

मोदी सरकार 2.0 के शुक्रवार को पेश किए गए पहले बजट के दौरान  वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि सरकारी कंपनियों का विनिवेश सरकार की प्राथमिकता है. गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) को बाजार से फंड जुटाने में सरकार मदद करेगी. साथ ही वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था 2014 में 1.85 खरब डॉलर से 2.7 खरब अमेरिकी डॉलर तक पहुंची, हम अगले कुछ वर्षों में बहुत अच्छी तरह से 5 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच सकते हैं. ऐसे में सवाल ये है कि विनिवेश के लिए सरकार ने एक बड़ा लक्ष्य रखा है क्या इसे प्रैक्टि‍कल माना जाए? इसी सवाल पर जानते हैं इंडिया टुडे हिंदी के संपादक और आर्थ‍िक विश्‍लेषक अंशुमान तिवारी की राय.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay