एडवांस्ड सर्च

आर्थिक सुधारों को आगे बढ़ाना चाहिए: दीपक पारेख

एचडीएफसी के चेयरमैन दीपक पारेख का मानना है कि अर्थव्‍यवस्‍था में सुधार के संकेतों से बाजारों में खुशी का माहौल है, लेकिन रातोरात न तो बदलाव आता है और न ही फायदा होता है. बजट पर विशेष कवरेज

Advertisement
Assembly Elections 2018
इंडिया टुडे/ आज तक ब्‍यूरोनई दिल्‍ली, 02 July 2009
आर्थिक सुधारों को आगे बढ़ाना चाहिए: दीपक पारेख दीपक पारेख

एचडीएफसी के चेयरमैन दीपक पारेख का मानना है कि अर्थव्‍यवस्‍था में सुधार के संकेतों से बाजारों में खुशी का माहौल है, लेकिन रातोरात न तो बदलाव आता है और न ही फायदा होता है.

दिख रही है आशावादिता
इस सवाल के जवाब में कि क्या बाजार में तेजी और 'फीलगुड' का उभरता हल्का एहसास वास्तविक है या महज मरीचिका, उन्‍होंने बताया कि यहां निश्चित रूप से आशावादिता दिख रही है. चुनावों से केंद्र में टिकाऊ सरकार आई है जो सुधारोन्मुख एजेंडे को आगे बढ़ा सकती है. बाजारों में खुशी का माहौल है, लेकिन रातोंरात बदलाव नहीं आया करते हैं.
 
बीत गया सबसे बुरा दौर
दीपक पारेख का मानना है कि बदतर समय खत्म हो गया है. उन्‍होंने कहा, ''मैं नहीं सोचता कि पिछले अक्तूबर जैसी स्थिति फिर पैदा होगी जब ऋण बंद कर दिया गया था.'' यह पूछे जाने पर कि क्या भारतीय अर्थव्यवस्था के पुनरुद्धार को वैश्विक मंदी की भयावहता से अलग किया जा सकता है, उन्‍होंने कहा कि जहां तक वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार का सवाल है, भारत इस मामले में आगे है क्योंकि उसका विकास निर्यात पर निर्भर नहीं है, बल्कि घरेलू मांग और खपत पर आधारित है.

पहले ही शुरू हो चुका है सुधार
अर्थव्यवस्था में सुधार की बाबत पूछे जाने पर उन्‍होंने कहा, ''मेरा मानना है कि सुधार पहले ही शुरू हो चुका है जिसका प्रभाव मौजूदा वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही से और अधिक स्पष्ट दिख सकता है.'' उन्‍होंने कहा कि रोजगार के आंकड़ों को देखने पर पता चलेगा कि मंदी का दौर खत्‍म हो रहा है, विशेषकर तब जब आइटी क्षेत्र में भर्तियां शुरू होंगी.

दीपक पारेख की नजर में:
3 कदम, जो सरकार को उठाने ही चाहिए

- परियोजनाओं को आगे बढ़ाकर 8.5 प्रतिशत वृद्धि का लक्ष्य रखना चाहिए.
- लंबित विधयेकों को पारित कर आर्थिक सुधारों को आगे बढ़ाना चाहिए.
- सब्सिडी में कटौती होनी चाहिए. स्वास्थ्य, शिक्षा पर खर्च बढ़ाना चाहिए.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay