एडवांस्ड सर्च

राबडी सोनपुर-राघोपुर दोनों विधानसभा क्षेत्र से नहीं जीतेंगी: तिवारी

बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष की नेता राबडी देवी के सोनपुर और राघोपुर दोनों विधानसभा क्षेत्र से जीतने के राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के दावे को गलत ठहराते हुए जदयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिवानंद तिवारी ने उनके दोनों क्षेत्रों से नहीं जीतने का दावा किया और कहा कि लालू को अब राजनीति से संयास लेने की तैयारी करनी चाहिए.

Advertisement
भाषापटना, 08 November 2010
राबडी सोनपुर-राघोपुर दोनों विधानसभा क्षेत्र से नहीं जीतेंगी: तिवारी

बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष की नेता राबडी देवी के सोनपुर और राघोपुर दोनों विधानसभा क्षेत्र से जीतने के राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के दावे को गलत ठहराते हुए जदयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिवानंद तिवारी ने उनके दोनों क्षेत्रों से नहीं जीतने का दावा किया और कहा कि लालू को अब राजनीति से संयास लेने की तैयारी करनी चाहिए.

पटना में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए तिवारी ने राबडी के उक्त दोनों विधानसभा क्षेत्रों से नहीं जीतने का दावा करते हुए लालू को चुनौती दी कि अगर उनकी बात सही साबित होती है तो क्या राजद सुप्रीमों राजनीति से संयास ले लेंगे.

एक प्रश्न के उत्तर में तिवारी ने कहा कि अगर राबडी दोनों स्थानों से जीत जाती हैं तो वे सक्रिय राजनीति से संयास लेने से नहीं हिचकेंगे.

राजग के पिछले पांच साल के शासन के दौरान बिहार में केवल शराब के उद्योग के पनपने के लालू के आरोप पर उनकी खिंचाई करते हुए प्रदेश की पिछली राबडी सरकार के कार्यकाल में मद्य निषेध विभाग के मंत्री रहे तिवारी ने कहा कि पिछली सरकार के कार्यकाल में उक्त विभाग का बुरा हाल था.

तिवारी ने लालू पर वर्ष 2000 से 2005 के बीच अपनी पार्टी के शासनकाल के दौरान राजद नेताओं के करीबी रिश्तेदारों को अवैध मद्य व्यापार के जरिए लाभ पहुंचाने के लिए उत्तर प्रदेश की तर्ज पर नई उत्पाद नीति लाने का आरोप लगाया.

उन्होंने दावा किया कि राजद शासनकाल के दौरान जहां उक्त विभाग की आमदनी मात्र तीन सौ करोड रूपये थी वहीं प्रदेश की वर्तमान राजग शासन काल में उसकी अमदनी बढकर प्रति वर्ष सात सौ करोड रूपये हो गयी है.

उल्लेखनीय है कि बिहार में नीतीश सरकार के सत्ता में आने पर तिवारी राजद छोड जदयू में शामिल हो गए थे.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay