एडवांस्ड सर्च

बिहार: सत्तू विक्रेता की झोपड़ी में गये राहुल

राहुल गांधी का गरीब पिछड़ों के प्रति प्रेम दिखाने का अंदाज ही कुछ अलग है.

Advertisement
भाषाजहानाबाद, 04 November 2010
बिहार: सत्तू विक्रेता की झोपड़ी में गये राहुल

कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी का गरीब पिछड़ों के प्रति प्रेम दिखाने का अंदाज ही कुछ अलग है और यह बिहार के जहानाबाद जिले में भी देखने को मिला.

जिले में कल एक चुनावी सभा से पहले राहुल अपना एसपीजी सुरक्षा घेरा तोड़कर एक गरीब की झोपड़ी में चले गये.

नवादा जिले के हिसुआ में एक चुनावी सभा के बाद यहां पहुंचे राहुल चुनाव सभा के मुख्य द्वार की ओर जा रहे थे तभी उन्होंने रूककर वहां खड़े एक सत्तू विक्रेता से उसका हालचाल पूछा और फिर उसकी झोपड़ी में प्रवेश कर गये.

एसपीजी के सुरक्षाकर्मी भी इस वाकये से चौंक गये. अमेठी के सांसद को देखने के लिए उत्सुक लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी, जिसे नियंत्रित करने के लिए सुरक्षाकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी.

राहुल ने झोपड़ी के भीतर जाकर एक छोटी बालिका सहित वहां मौजूद परिवार के सदस्यों का हालचाल पूछा. युवा नेता ने सत्तू विक्रेता के साथ हाथ मिलाया और खुद उसका नाम भी लिखा.

बाद में चुनावी सभा में राहुल ने गरीब दलितों से मिलने के लिए विरोधियों द्वारा की जाने वाली उनकी आलोचना पर पलटवार किया.

उन्होंने कहा, ‘‘गरीबों के घर जाने पर वे मुझे बच्चा कहते हैं . लेकिन बेहद विनम्रता के साथ मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि मैं बच्चा नहीं हूं.’’ राहुल ने कहा, ‘‘बीते पांच वर्षों से मैं गांवों के गरीबों के कल्याण के बारे में जानकारी लेने का काम कर रहा हूं क्योंकि जबतक उनकी तकलीफों को दूर नहीं किया जाता भारत प्रगति नहीं कर सकता.’’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay