एडवांस्ड सर्च

Advertisement

लालू-पासवान का मुद्दा है वा‍स्‍तविक विकास

चुनाव को लेकर राजद लोजपा ने वास्‍तविक विकास को मुद्दा बनाया है.
लालू-पासवान का मुद्दा है वा‍स्‍तविक विकास
आज तक ब्‍यूरोनई दिल्‍ली, 22 October 2010

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजद लोजपा ने वास्‍तविक विकास को मुद्दा बनाया है. राजद प्रमुख लालू प्रसाद तथा लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान ने राजद-लोजपा गठबंधन का साझा घोषणा पत्र जारी करते हुए उसमें वर्णित एजेंडों को टाईमबांड लागू किए जाने का वादा किया.

लालू ने बिहार की वर्तमान राजग सरकार पर विज्ञापनबाजी के जरिए विकास का भ्रम फैलाने तथा इस सरकार के कार्यकाल में कुछ खास लोगों की काली कमाई को विकास का मानक मान लिए जाने का आरोप लगाते हुए दावा किया कि उनके गठबंधन के चुनाव-एजेंडा में बिहार के वास्तविक विकास की चिंता शामिल है जिसमें गांवों और गरीबों के जीवन को बेहतर बनाने का संकल्प है.

राजद सुप्रीमो ने आरोप लगाया कि पिछले पांच वर्षों के दौरान पटना में जमीनों और फ्लैटों की कीमतें पांच गुनी बढ़ गयी है, इसके पीछे किन लोगों का हाथ है इसका पता लगाये जाने पर राजग सरकार के तथाकथित विकास का रहस्य सामने आ जाएगा. उन्होंने कहा कि राजग की प्रदेश सरकार का विकास का दूसरा चेहरा गांव-गांव तक शराब की दुकानें खुलवाने के पीछे छुपा है.

लालू ने कहा कि आज पूरा प्रदेश सूखे का संकट झेल रहा है, प्रदेश में किसानों की हालत सबसे अधिक दयनीय है पर इसके निदान के लिए बिहार की वर्तमान सरकार द्वारा कोई कारगर कदम नहीं उठाया गया है. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बिहार की वर्तमान सरकार को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की विचारधारा आधारित सरकार की संज्ञा देते हुए इस सरकार पर न्याय के साथ विकास का साईनबोर्ड लगाकर गरीबों के साथ छल करने का आरोप लगाया.

प्रदेश की वर्तमान राजग सरकार के कार्यकाल में अमीर-गरीब के बीच असमानता कई गुना बढ़ जाने का आरोप लगाते हुए लालू ने कहा कि इस सरकार के कार्यकाल में गांव-कसबों में दबंगों की पकड़ मजबूत हुई है और सरकारी महकमों में भ्रष्टाचार न केवल चरम पर है बल्कि इसने पिछले सभी रिकार्ड टूट गए हैं. लालू ने कहा कि प्रदेश में राजद-लोजपा की सरकार बनने पर सभी प्रकार के भ्रष्टाचार पर न केवल अंकुश लगाया जाएगा बल्कि सरकारी कामकाज में पारदर्शिता लायी जाएगी और फिजूलखर्जी पर रोक लगाई जाएगी तथा सादगी को बढावा दिया जाएगा.

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार मिटाने के लिए जनता को जागरूक बनाया जाएगा और उन्हें सूचना के अधिकार से लैस किया जाएगा. लालू ने कहा कि राजद-लोजपा सरकार एक लाख युवक-युवतियों की सदस्यता पर आधारित विकास सेना का गठन करेगी. विकास सेना के सदस्यों को प्रशिक्षित किया जाएगा और उन्हें साधन उपलब्ध कराए जाएंगे ताकि वे इन योजनाओं के क्रियान्वयन में आमजन की भागीदारी सुनिश्चित कर विकास संबंधित योजनाओं को पूरे राज्य में गति प्रदान करेंगे.

लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान ने कहा कि उनके गठबंधन के सत्ता में आने पर चार महीने के भीतर बीपीएल सूची को दुरूस्त किया जाएगा और छह महीने भीतर रंगनाथ मिश्रा आयोग की सिफारिश के अनुसार सरकारी सेवाओं और विभिन्न संगठनों व संस्थानों में अल्पसंख्यकों को 15 फीसदी आरक्षण, गरीब सवर्ण जातियों के लोगों के लिए कानून में प्रावधान कर नौकरियों में 10 प्रतशित आरक्षण की व्यवस्था कर दी जाएगी.

राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद ने कहा कि राजद-लोजपा गठबंधन की बिहार में सरकार बनने पर सरकारी नौकरी में सभी श्रेणी की उम्र सीमा में दो साल की और वृद्धि कर दी जाएगी तथा शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए एक स्वतंत्र रोजगार विभाग का गठन किया जाएगा जिसका मुख्य कार्य प्रखंड स्तर से राज्य मुख्यालय और सचिवालय स्तर तक की रिक्तियों का पता लगाना, विज्ञापित कराना एवं नियोजन करना होगा.

राजद-लोजपा गठबंधन के साझा चुनावी घोषणा पत्र में उनकी सरकार बनने पर सर्वेक्षण के आधार पर प्रत्येक किसान एवं मजदूर परिवार के कम से कम एक सदस्य को नौकरी अथवा स्वनियोजन का अवसर प्रदान करने तथा कृषि एवं ग्रामीण उद्योग के क्षेत्र में रोजगार के नये अवसर का सृजन एवं विस्तार किए जाने का वादा किया गया है.

घोषणा पत्र में राजद-लोजपा की सरकार बनने पर 24 घंटे के भीतर सामान्य स्थिति में सभी को प्रति माह 5 लीटर केरोसीन तेल उपलब्ध कराये जाने और नगर क्षेत्र में सबके लिए बिजली-पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करने और ग्रामीण क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल की उपलब्धता के लिए अलग से बिजली दिए जाने का वादा किया गया है. घोषणा पत्र में सभी ग्रामीण क्षेत्रों में हैंडपम्प लगाए जाने और पांच वर्ष के भीतर प्रत्येक पंचायत में पानी की टंकी का निर्माण कराए जाने की बात कही गयी है.

घोषणा पत्र में यह भी वादा किया गया है कि प्रदेश की बिजली की किल्लत को दूर करने के लिए पडोसी राज्यों और केंद्र से खरीदकर इसकी आपूर्ति की जाएगी. बिजली की चोरी पर रोक लगाई जाएगी और इसकी वितरण प्रणाली को चुस्त किया जाएगा. राजद-लोजपा के चुनावी घोषणा पत्र में उनकी सरकार बनने पर बिहार में ऊर्जा की कमीं को दूर करने और इस मामले में प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए वैकल्पिक उर्जा स्रोतों के सृजन के लिए अक्षय ऊर्जा कानून बनाकर स्थानीय संसाधनों के जरिए सामुदायिक स्तर पर उर्जा उत्पादन और उसके प्रबंधन की बात कही गयी है जिसमें सौर ऊर्जा, बायो-मास, छोटी पनबिजली परियोजना तथा पवन-ऊर्जा को शामिल किया गया है.

घोषणा पत्र में संविदा पर नियोजित शिक्षकों और न्याय-मित्रों की सेवा नियमित किए जाने तथा पूर्व में चयनित दरोगा अभ्‍यर्थियों में शेष बचे लोगों को नियुक्त किए जाने तथा विशेष भर्ती अभियान चलाकर अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछडे वर्गो के बैकलाग को भरे जाने का वादा किया गया है. राजद-लोजपा के घोषणा पत्र में बिहार राज्य कोचिंग अधिनियम 2009 में आवश्यक सुधार कर छात्रों एवं शिक्षकों के हित के अनुरूप बनाए जाने तथा पटना विश्वविद्यालय में इंटर की पढाई पुन: शुरू कराए जाने की बात कही गयी है.

घोषणा पत्र में बिहार से काफी छात्रों के दूसरे राज्यों में पढने जाने को ध्यान में रखकर यहां एक ऐसा एजुकेशन हब कायम किए जाने की बात कही गयी है जिसमें गरीब छात्रों को पढने का अवसर मिल सकेगा. राजद-लोजपा के घोषणा पत्र में उनकी सरकार बनने पर केंद्रीय योजनाओं की समेकित निगरानी और क्रियान्वयन के लिए जनप्रतिनिधियों की एक समिति का गठन किए जाने तथा राजग सरकार के कार्यकाल में जमीन निबंधन शुल्क में की गयी वृद्धि को कम किए जाने का वादा किया गया है.

घोषणा पत्र में नक्सलवाद समस्या के बारे में कहा गया है कि प्रदेश में राजद-लोजपा की सरकार बनने पर उनके दमन के बजाए वार्ता मार्ग अपनाकर उन्हें समाज के मुख्यधारा में जोडने का प्रयास किया जाएगा. घोषणा पत्र में प्रत्येक व्यक्ति को स्वास्थ्य कार्ड उपलब्ध कराए जाने तथा उसके जरिए हृदय, कैंसर या अन्य जानलेवा बीमारियों के इलाज में आने वाले खर्च में 50 फीसदी की छूट देने की बात कही गई है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay