एडवांस्ड सर्च

कर्नाटक: रिजॉर्ट से कांग्रेस का एक और विधायक गायब, दो पहले से ही हैं नदारद

बता दें कि इससे पहले आजतक से बातचीत में विधायक प्रताप गौड़ा पाटिल से जब पूछा गया था कि क्या कांग्रेस के विधायक बीजेपी के पाले में चले गए हैं, तो उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेताओं को जनता के फैसले को देखना चाहिए.

Advertisement
मौसमी सिंह [Edited by: नंदलाल शर्मा]बेंगलुरु/नई दिल्ली, 17 May 2018
कर्नाटक: रिजॉर्ट से कांग्रेस का एक और विधायक गायब, दो पहले से ही हैं नदारद कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ीं..

कर्नाटक में सरकार गठन के लिए विधायकों की धर-पकड़ का दौर जारी है, कांग्रेस के दो विधायक पहले से ही गायब थे. और अब एक और विधायक के गायब होने की खबर है. कांग्रेस विधायक राजशेखर पाटिल का कहना है कि मैं रिजॉर्ट से बाहर जा रहा हूं, मेरी तबीयत खराब है. राजशेखर हैदराबाद कर्नाटक के हुमनाबाद से विधायक हैं. पाटिल का कहना है कि वह एक या दो घंटे में वापस आएंगे, मुझे बीजेपी से कोई फोन नहीं आया है. हम सभी एक हैं. 

बेल्लारी से कांग्रेस के विधायक आनंद सिंह भी पिछली रात ईगलटन रिजॉर्ट नहीं पहुंचे हैं. कर्नाटक हैदराबाद क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक प्रताप गौड़ा पाटिल के गायब होने की भी खबर आ रही है.

हैदराबाद कर्नाटक क्षेत्र में मस्की रायचूर से कांग्रेस के विधायक प्रताप गौड़ा पाटिल ईगलटन रिजॉर्ट से गायब है. सूत्रों का कहना है कि पाटिल बीजेपी के साथ चले गए हैं. पिछली रात तक वे कांग्रेस के साथ थे और समर्थन पत्र पर हस्ताक्षर भी किए थे.

बता दें कि इससे पहले आजतक से बातचीत में विधायक प्रताप गौड़ा पाटिल से जब पूछा गया था कि क्या कांग्रेस के विधायक बीजेपी के पाले में चले गए हैं, तो उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेताओं को जनता के फैसले को देखना चाहिए.

इस बीच कांग्रेस ने कर्नाटक विधानसभा के बाहर अपना विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है. अशोक गहलोत, गुलाम नबी आजाद, सिद्धारमैया, डीके शिवकुमार और अन्य कांग्रेसी विधायक विधानसभा के बाहर गांधी प्रतिमा के करीब प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रदर्शन में दो निर्दलीय विधायक भी शामिल हैं. जानकारी के मुताबिक जेडीएस के विधायक भी विधानसभा के बाहर प्रदर्शन के लिए पहुंच सकते हैं.

येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण के बाद पहली प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा कि इस लोकतंत्र में उनका भरोसा नहीं है.

बीजेपी विधायक दल के नेता बी.एस. येदियुरप्पा ने गुरुवार को राज्य के अगले मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. राज्यपाल वजुभाई वाला ने सुबह नौ बजे राजभवन में कड़ी सुरक्षा और व्यवस्था के बीच येदियुरप्पा को शपथ दिलाई.

येदियुरप्पा (75) ने बीजेपी के केंद्रीय और राज्य के नेताओं और नवनिर्वाचित विधायकों के बीच कन्नड़ भाषा में शपथ ली. इससे पहले सर्वोच्च न्यायालय की तीन सदस्यीय पीठ ने येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay