एडवांस्ड सर्च

सपा ने फूलन देवी के हत्यारे शेर सिंह राणा के रिश्तेदार का टिकट काटा

अजित कुमार अखिलेश सरकार में होमगार्ड मंत्री अवधेश प्रसाद के बेटे है, बेटे का टिकट कटने के बाद अवधेश ने कैबिनेट की मीटिंग में अखिलेश यादव के साथ नजर आए थे. जिसके बाद उनकी फरियाद सुन ली गई.

Advertisement
aajtak.in
बालकृष्ण लखनऊ, 15 December 2016
सपा ने फूलन देवी के हत्यारे शेर सिंह राणा के रिश्तेदार का टिकट काटा सपा में टिकट को लेकर खींचतान

मुलायम परिवार की अंदरुनी कलह के कारण पहले ही पार्टी की छवि पर काफी असर पड़ा है अब पार्टी में टिकट बंटवारा भी एक तरह से मजाक बन कर रह गया है. पिछले कुछ दिनों में शिवपाल यादव के द्वारा उम्मीदवारों की लिस्ट में लगातार फेरबदल हो रहे है. मंगलवार को आए प्रेस रिलीज़ में कहा गया कि अमेठी के जगदीशपुर से विमलेश सरोज नहीं अजित कुमार ही प्रत्याशी होंगे. इससे पहले शिवपाल ने खुद अजित का टिकट काटकर विमलेश सरोज को टिकट दिया था, हालांकि सबसे पहले अजित कुमार को ही टिकट दिया गया था.

अजित कुमार अखिलेश सरकार में होमगार्ड मंत्री अवधेश प्रसाद के बेटे है, बेटे का टिकट कटने के बाद अवधेश ने कैबिनेट की मीटिंग में अखिलेश यादव के साथ नजर आए थे. जिसके बाद उनकी फरियाद सुन ली गई. उधर समाजवादी पार्टी ने फूलन देवी के हत्यारे शेर सिंह राणा के रिश्तेदार का टिकट काट दिया है. उन्हें शामली से टिकट दिया गया था. उनका टिकट काटकर अब उनकी जगह पर किरनपाल कश्यप को प्रत्याशी घोषित किया गया है.

पहले भी बदले नाम

इससे पहले सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने दो दिन पहले जिन उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया था, मंगलवार को उनमें से दो के नाम बदल दिए हैं. अमापुर सीट से वीरेंदर सोलंकी और खागा से ओम प्रकाश गिहार का नाम प्रत्याशियों की लिस्ट से काट दिए गए हैं. समाजवादी पार्टी में लंबे समय के घमासान जारी है. मुख्यमंत्री भतीजे अखिलेश यादव और चाचा शिवपाल के बीच खींचतान चल रही है. ऐसे में प्रत्याशियों के नामों के ऐलान को भी लेकर भी पार्टी में उथलपुथल होना लाजिमी है.

गौरतलब है कि पिछले चार दिनों में शिवपाल यादव दस प्रत्याशियों के टिकट काट चुके है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay