एडवांस्ड सर्च

किसके हाथ में होगी साहिबाबाद की सियासी बाजी? प्रत्याशियों में प्रचार की जंग

साहिबाबाद सीट से अमरपाल शर्मा विधायक हैं. शर्मा ने बीएसपी पर पैसे लेकर टिकट बांटने का आरोप लगाया था. इसके बाद मायावती ने उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था. इस बार वो कांग्रेस के बैनर तले किस्मत आजमा रहे हैं. शर्मा कहते हैं कि बीएसपी भ्रष्ट लोगों की पार्टी है और इस बार वो मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ हैं.

Advertisement
aajtak.in
शुभम गुप्ता साहिबाबाद , 05 February 2017
किसके हाथ में होगी साहिबाबाद की सियासी बाजी? प्रत्याशियों में प्रचार की जंग साहिबाबाद सीट पर तेज हुई प्रचार की जंग

बाकी यूपी की तर्ज पर दिल्ली से सटे साहिबाबाद में भी सियासी घमासान तेज है. गाजियाबाद जिले में सबसे ज्यादा वोटर इसी सीट पर हैं. यहां पहले चरण में वोट डाले जाएंगे. सभी पार्टियां इस प्रतिष्ठित सीट को अपनी झोली में डालने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही हैं. लोगों के लिए साफ पानी की सप्लाई सबसे बड़े मुद्दों में से एक है.

मौजूदा विधायक को मिलेगी जीत?
फिलहाल साहिबाबाद सीट से अमरपाल शर्मा विधायक हैं. शर्मा ने बीएसपी पर पैसे लेकर टिकट बांटने का आरोप लगाया था. इसके बाद मायावती ने उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था. इस बार वो कांग्रेस के बैनर तले किस्मत आजमा रहे हैं. शर्मा कहते हैं कि बीएसपी भ्रष्ट लोगों की पार्टी है और इस बार वो मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ हैं.

बीजेपी को जीत का भरोसा
अमरपाल शर्मा की दावेदारी को बीजेपी उम्मीदवार सुनील शर्मा से चुनौती मिल रही है.

शर्मा इन दिनों गली-मोहल्लों में छोटी-छोटी सभाएं करने में मशगूल हैं. सुनील शर्मा मानते हैं कि उनके सामने कोई भी उम्मीदवार टिकने वाला नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay