एडवांस्ड सर्च

यूपी चुनाव: 95 साल की जल देवी मैदान में, विरोधियों के छूटे पसीने

चुनाव के लिए पर्चा दाखिल करने व्हीलचेयर पर बैठकर आगरा कलक्टरेट पहुंचीं जल देवी कहती हैं कि वह यह सुर्खियां बटोरने के लिए बल्कि चुनाव जीत कर अपने क्षेत्र के लोगों के लिए काम करने के मकसद से कर रही हैं.

Advertisement
सिराज कुरैशी [Edited By : साद बिन उमर]आगरा, 27 January 2017
यूपी चुनाव: 95 साल की जल देवी मैदान में, विरोधियों के छूटे पसीने 95 साल की जल देवी ने खीरागढ़ विधानसभा सीट से पर्चा दाखिल किया

ऐसे वक्त में जब सभी दल राजनीति में युवा पीढ़ी को आगे लाने की बात करते हैं, आगरा जिले के खीरागढ़ विधानसभा सीट से 95 साल की एक महीला ने नामांकन दाखिल कर सबको चौंका दिया है.

चुनाव के लिए पर्चा दाखिल करने व्हीलचेयर पर बैठकर आगरा कलक्टरेट पहुंचीं जल देवी कहती हैं कि वह यह सुर्खियां बटोरने के लिए बल्कि चुनाव जीत कर अपने क्षेत्र के लोगों के लिए काम करने के मकसद से कर रही हैं.

इंडिया टुडे से बातचीत में जल देवी ने कहा कि वह काफी समय से सामाजिक कार्यों से जुड़ी रही हैं और अब राजनीति से भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए चुनाव लड़ रही हैं.

खीरागढ़ इलाके में लक्ष्मण सेना की संस्थापक के रूप में मशहूर जल देवी ने पिछले साल जिला पंचायत का चुनाव लड़ा था, जिसमें उन्होंने 13000 वोट हासिल सबको चौंका दिया था.

ऐसे में स्थानीय लोगों के बीच उनकी इस लोकप्रियता ने सभी प्रमुख पार्टियों के माथे पर बल जरूर ला दिया है. उन्हें लगता है कि जल देवी के खाते में गए वोट ही चुनावों में उनकी तकदीर तय करेंगे.

जल देवी के चुनाव लड़ने के इस फैसले से सबसे ज्यादा मुश्किल बीएसपी उम्मीदवार भगवान सिंह कुशवाहा के लिए खड़ी हुई है. कुशवाहा लगातार दो बार से इस सीट से विधायक हैं और ऐसे में उन्हें एंटी इन्कंबेंसी फैक्टर से भी पार पाना होगा.

इस सीट से कुशवाहा के अलावा सपा-कांग्रेस गठबंधन की उम्मीदवार कुसुम लता दीक्षित, बीजेपी के महेश गोयल और आरएलडी उम्मीदवार रामेंद्र सिंह परमार के बीच टक्कर है. वहीं जल देवी इस 'वाइल्ड कार्ड' एंट्री ने इन सभी उम्मीदवारों के लिए इस चुनावी समर की मुश्किल को और बढ़ा दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay