एडवांस्ड सर्च

"बीजेपी सरकार में यूपी में एक साल में मारे गए थे 350 अपराधी"

जैसे-जैसे यूपी में चुनाव के दिन नजदीक आ रहे हैं नेताओं के बयान तीखे होते जा रहे हैं. चुनावी दंगल में जीत हासिल करने और जनता का साथ पाने की खातिर कई नेता किसी भी तरह की बात कहने से भी नहीं हिचकिचाते.

Advertisement
शुभम गुप्ता [Edited By: कौशलेन्द्र]गाजियाबाद, 06 February 2017
"बीजेपी सरकार में यूपी में एक साल में मारे गए थे 350 अपराधी" अमित गर्ग

जैसे-जैसे यूपी में चुनाव के दिन नजदीक आ रहे हैं नेताओं के बयान तीखे होते जा रहे हैं. चुनावी दंगल में जीत हासिल करने और जनता का साथ पाने की खातिर कई नेता किसी भी तरह की बात कहने से भी नहीं हिचकिचाते. कुछ ऐसा ही वाक्या गाजियाबाद में भी नजर आया. गाजियाबाद विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार अमित गर्ग का कहना है कि बीजेपी सरकार में यूपी में एक साल में 350 अपराधियों को सीधे गोली मार दी गई थी.

बीजेपी उम्मीदवार ने की 'मन की बात'
आज तक से हुई बातचीत में उत्तर प्रदेश कि गाजियाबाद विधानसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी से जब पूछा गया कि क्या आपके आने के बाद गाजियाबाद से क्राइम का नामोनिशान खत्म हो जाएगा? तो उनका कहना था कि, "जब बीजेपी की सरकार उत्तर प्रदेश में थी तब एक साल के भीतर 350 अपराधियों को सीधे गोली मार दी गई थी." अतुल की बात से सीधा संकेत मिलता है कि बीजेपी सत्ता में आई तो क्राइम कंट्रोल के लिए बीजेपी एक बार फिर यही रुख अख्तियार कर सकती है.

पिछले चुनाव में मिली थी करारी शिकस्त
अतुल गर्ग इससे पहले 2012 में भी गाजियाबाद से चुनाव लड़ चुके हैं मगर बीएसपी के सुरेश बंसल ने उन्हें भारी मतों से शिकस्त दी थी. इस बार गर्ग फिर से मैदान में हैं और जम कर प्रचार-प्रसार कर रहे हैं. वे अपने चुनावी भाषणों में सर्जिकल स्ट्राइक और नोटबंदी का जिक्र करना भी नहीं भूलते.

क्राइम है बड़ा मुद्दा
गाजियाबाद में इस बार क्राइम सबसे बड़ा मुद्दा बन कर सामने आ रहा है. ऐसे में देखना होगा कि जनता किसे वोट देती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay