एडवांस्ड सर्च

पिता-पुत्र के दंगल पर अमर सिंह ने कहा- बेटा राज करेगा, पिता वनवास जाएगा

अमर सिंह ने कहा कि मैं अपना पूरा समर्थन नेताजी को देता हूं, उनकू अवमानना पार्टी का अनुशासन भंग करने के समान है. उनके (मुलायम) खिलाफ कितने भी बड़े लोग जो कुछ भी काम कर रहे हैं, वो बिल्कुल असंवैधानिक, अनैतिक और गलत है.

Advertisement
aajtak.in
लव रघुवंशी / अशोक सिंघल नई दिल्ली, 31 December 2016
पिता-पुत्र के दंगल पर अमर सिंह ने कहा- बेटा राज करेगा, पिता वनवास जाएगा अमर सिंह

समाजवादी पार्टी में मचे घमासान पर लंदन से अमर सिंह ने बयान जारी किया है. पहली बार पिता पुत्र के विवाद में अमर सिंह का बयान सामने आया है. अमर सिंह ने बयान जारी कर खुलकर अखिलेश का विरोध किया है और कहा है कि वो पूरी तरह मुलायम के साथ हैं. आज फ्लाइट नहीं है वरना वो लखनऊ में मौजूद होता. उन्होंने दोहा पढ़ाकर कहा की कलयुग में पिता वनवास जाएगा और बेटा राज करेगा. वो इसे कतई स्वीकार नहीं करेंगे.

अमर सिंह ने कहा कि मैं अपना पूरा समर्थन नेताजी को देता हूं, उनकू अवमानना पार्टी का अनुशासन भंग करने के समान है. उनके (मुलायम) खिलाफ कितने भी बड़े लोग जो कुछ भी काम कर रहे हैं, वो बिल्कुल असंवैधानिक, अनैतिक और गलत है. समाजवादी पार्टी प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि कोई संवैधानिक संकट नहीं है, लेकिन यह हमारे लिए दर्द भरा वक्त है, हमें उम्मीद है कि मामला जल्द ही सुलझा लिया जाएगा.

मैं मुलायम सिंह के साथ: बेनी प्रसाद वर्मा
समाजवादी पार्टी के नेता बेनी प्रसाद वर्मा का कहना है कि जो कुछ भी हो रहा है, वह परिस्थितिवश हो रहा है. इसको दुर्भाग्यपूर्ण मानते हैं. समाजवादी पार्टी को मुलायम सिंह ने अपने खून पसीने से संभाला है, बनाया है. सांप्रदायिक ताकतों से लड़के अपनी एक अलग पहचान बनाई थी और मुलायम सिंह ने की वजह से ही अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बने. परिवार से दूर होकर राजनीति मे पढ़ना प्रदेश के लिए अच्छा नहीं है. अखिलेश मुलायम के योगदान को कम करके अलग पहचान बनाने की कोशिश करता है तो वो गलतफहमी में हैं. बेनी प्रसाद वर्मा का कहना है कि मुलायम सिंह के साथ अखिलेश नादानी कर रहे हैं. मैं मुलायम सिंह के साथ हूं. टिकट देने के अधिकार पर वर्मा का कहना है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष को इसका अधिकार होता है.

वहीं सपा प्रवक्ता जूही सिंह ने कहा कि जब हमारे सीएम निष्कासित हुए तो प्रवक्ता पद छोड़ना मेरी जिम्मेदारी है. हम नेताजी के खिलाफ नहीं हैं लेकिन हम अपने सीएम के साथ खड़े हैं. बसपा के सुधींद्र भदौरिया ने कहा कि ये लड़ाई उस धन और लूट की है जो पिछले 4 साल में की गई है.

वहीं बीजेपी सांसद सत्यपाल ने कहा कि धीरे-धीरे सपा से गुंडे तत्व दूर हो रहे हैं और अखिलेश एक स्थापित नेता बनकर उभरेंगे. ये पारिवारिक ड्रामा लगता है, क्योंकि मोदीजी राजनीति को इस आयाम पर ले आए हैं कि इसमें कोई भी गुंडा प्रवृत्ति का ना हो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay