एडवांस्ड सर्च

गला बैठ गया फिर भी नहीं छोड़ा रण, गुजरात में मोदी की ये 5 रणनीतियां सफल

वहीं, पीएम मोदी के गुजरात चुनाव प्रचार में कूदते ही हवा बदल गई और चुनाव बीजेपी के पक्ष में हो चला. जानें मोदी की वो खास रणनीति जिसकी वजह से गुजरात में मिली जीत.

Advertisement
रणव‍िजय सिंहनई दिल्ली, 18 December 2017
गला बैठ गया फिर भी नहीं छोड़ा रण, गुजरात में मोदी की ये 5 रणनीतियां सफल पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल)

गुजरात चुनाव के रिजल्ट आ गए हैं. एक बार फिर गुजरात में बीजेपी की सरकार बनने जा रही है. हालांकि ये जीत उस हिसाब की नहीं है, जिस हिसाब का दावा बीजेपी के नेताओं की ओर से किया जा रहा था. दावे जो भी हों लेकिन इस जीत से ये तय हो गया कि गुजरात में अभी भी मोदी का जादू कायम है. जहां शुरुआत में राहुल गांधी की रैलियों की वजह से बीजेपी बैकफुट पर नजर आ रही थी. वहीं, पीएम मोदी के गुजरात चुनाव प्रचार में कूदते ही हवा बदल गई और चुनाव बीजेपी के पक्ष में हो चला. जानें मोदी की वो खास रणनीति जिसकी वजह से गुजरात में मिली जीत...

मोदी की धुआंधार रैलियां

पीएम मोदी ने अपने गृहराज्य गुजरात में प्रचार की कमान 18 नवंबर से संभाली. इससे पहले राहुल ने वहां धुआंधार रैलियां की थी और कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनते नजर आ रहा था. जैसे ही मोदी प्रचार में उतरे ये हवा बदल गई. मोदी ने एक के बाद एक 30 से अधिक रैलियां की. मोदी की इन धुआंधार रैलियों की वजह से गुजरात में बैकफुट पर चली गई बीजेपी फिर से लड़ाई में आ गई.

मणिशंकर के बयान पर हावी

चुनाव प्रचार के आखिरी चरण में जब कांग्रेस और बीजेपी में कड़ी टक्कर चल रही थी. उसी वक्त कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर का मोदी को लेकर एक बयान कांग्रेस पर भारी पड़ता नजर आया. दरअसल, मणिशंकर ने पीएम मोदी को 'नीच इंसान' बता दिया. इसके बाद पीएम मोदी इस बयान को भुनाते हुए एक जनसभा में कहा, 'आपने हमें नीच कहा, निचली जाति का कहा. ये 18 तारीख़ को नतीजे ही दिखाएंगे कि गुजरात के बेटे को ऐसा कहना कितना भारी पड़ेगा.' इस तरह से ये बयान कांग्रेस पर भारी पड़ गया और मोदी ने इसे भुना लिया

कांग्रेस के जुमले को किया बेअसर

मोदी ने चुनाव प्रचार में उतरते ही अपने तरकश से चुन-चुन कर तीर निकाले और जमकर राहुल और कांग्रेस पर हमला किया. जिस विकास को कांग्रेस पागल बता रही थी, उसी विकास को लेकर मोदी ने कहा कि वो खुद विकास हैं. इसके बाद से 'विकास पागल हो गया' का जुमला राजनीतिक सुचिता की वजह से कांग्रेस ने ज्यादा इस्तेमाल नहीं किया. क्यों कि अगर इसके बाद भी वो विकास को पागल करार देती तो ये पीएम मोदी को पागल करार देने सरीखा था. बता दें, कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी इस चुनाव में राजनीतिक सुचिता को लेकर बहुत कड़ा रुख अख्त‍ियार किए हुए थे.

सी प्लेन पर सवार होकर दिखाया विकास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन एक अलग अंदाज में कैंपेन किया. जब विकास को लेकर राहुल ने उन पर हमला किया तो मोदी ने अहमदाबाद में पानी से आकाश तक एक बेहतरीन नजारा दिखाया. मोदी ने यहां साबरमती रिवर फ्रंट से मेहसाणा के धरोई बांध तक सी-प्लेन में सफर किया. भारत में पहली बार ऐसा नजारा दिखाई दिया. पीएम मोदी के चुनाव प्रचार का ये अंदाज देखकर सब हैरान रह गए. इसके साथ ही मोदी ने अपने विकास की बात को एक नए तरीके से जाहिर किया.

आखि‍री दौर में की भावुक अपील

गुजरात में चुनाव प्रचार अभियान खत्म होने के दिन पीएम मोदी ने एक के बाद एक लगातार कई ट्वीट किए. इन ट्वीट के माध्यम से मोदी ने गुजरात की जनता से बीजेपी को भारी बहुमत देने की भावुक अपील की थी. मोदी ने एक ट्वीट किया कि, 'हमारे विरोधियों ने जिस तरह का झूठ गुजरात, यहां के विकास और मेरे बारे में फैलाया है, वो मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था. ये स्वभाविक है कि इससे हर गुजराती को ठेस पहुंची होगी. गुजरात की जनता विपक्ष के झूठ और नकारात्मकता को करारा जवाब देगी.' इसके साथ ही एक रैली में भी मोदी ने कहा था, आप सब मेरा साथ नहीं देंगे तो कौन देगा. इन भावुक अपील का भी जनता पर खासा असर पड़ा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
SMS करें GJNEWS और भेजें 52424 पर. यह सुविधा सिर्फ एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया सब्सक्राइबर्स के लिए ही उपलब्ध है. प्रीमियम एसएमएस चार्जेज लागू
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay