एडवांस्ड सर्च

पूर्वोत्तर राज्य असम में 15 साल के कांग्रेस राज को खत्म कर खिला कमल, ममता-जया का जादू बरकरार

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के परिणाम आ चुके हैं. पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने अपने किले को और मजबूत कर लिया है तो तमिलनाडु में भी अम्मा का जादू बरकरार है.

Advertisement
aajtak.in
बबिता पंत नई दिल्ली , 20 May 2016
पूर्वोत्तर राज्य असम में 15 साल के कांग्रेस राज को खत्म कर खिला कमल, ममता-जया का जादू बरकरार

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के परिणाम आ चुके हैं. पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने अपने किले को और मजबूत कर लिया है तो तमिलनाडु में भी अम्मा का जादू बरकरार है. इस बीच बीजेपी को पहली बार पूर्वोतर राज्यों में बड़ी कामयाबी मिली है. असम की जनता ने कांग्रेस को सत्ता से बेदखल कर बीजेपी को पहली बार मौका दिया है. केरल में भी कांग्रेस के हाथ से सत्ता खिसकर सीपीआई (M) के पास पहुंच गई. हालांकि एक मात्र राज्य पुड्डुचेरी में कांग्रेस को कामयाबी मिली है.

तस्वीरों में देखें: चुनाव परिणाम के बाद कहीं खुशी, कहीं गम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच राज्यों के चुनाव परिणाम को एनडीए के लिए उत्साहवर्धक बताया. उन्होंने कहा कि असम में मिली भारी जीत से वे आश्चर्य हैं. उन्होंने पांचों राज्यों के मतदाताओं को धन्यवाद किया. पीएम ने कहा कि देश के सभी हिस्सों में बीजेपी को लेकर मतदाताओं में भरोसा बढ़ा है. इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि हम पांच राज्यों के जनादेश को स्वीकार करते हैं और चुनाव में कांग्रेस पार्टी की हार के कारणों की समीक्षा करेंगे. सोनिया गांधी ने चुनाव में विजयी हुई पार्टियों को बधाई दी.

पश्चिम बंगाल
पश्चिम बंगाल के 294 सीटों में से टीएमसी के खाते में 211 सीटें गईं, जबकि लेफ्ट और कांग्रेस गठबंधन ने 76 सीटों पर परचम लहराया. वहीं 6 सीटों पर बीजेपी ने अपना कब्जा कर लिया है. इस प्रचंड बहुमत के लिए ममता बनर्जी ने जनता का धन्यवाद किया, उन्होंने कहा कि दिल्ली से उन्हें भरपूर डराने की कोशिश की गई. लेकिन जनता का विश्वास उनपर था और उसका फल मिला है. वहीं माकपा नेता सीताराम येचुरी ने पश्चिम बंगाल में बीजेपी की जीत के लिए कांग्रेस और टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया.

टीएमसी की जीत पक्की होने पर सीएम ममता बनर्जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई. उन्होंने कहा कि यह जनता की जीत है. उन पर जो आरोप लगे उन्हें जनता ने खारिज कर दिया. ममता ने कहा, 'मैंने अकेले लड़कर सबको हराया है. विरोधियों ने मुझे बदनाम करने की कोशिश की.' उन्होंने बताया कि 27 मई को वह शपथ लेंगी और 29 को विधानसभा सेशन बुलाया जाएगा.

देखें: पश्चिम बंगाल के चुनावी नतीजे

पढ़ें: पश्चिम बंगाल में कौन कहां से जीते और किसकी हुई हार

तमिलनाडु
तमिलनाडु के 232 सीटों में से एआईएडीएमके ने 134 सीटें समेट ली. जबकि कांग्रेस-डीएमके गठबंधन 96 सीटें जीत चुका है और 2 पर आगे है. यहां बीजेपी अपना खाता भी नहीं खोल पाई. जीत के जयललिता ने कहा कि जनता से किए सभी वादे पूरे किए जाएंगे. उन्होंने कहा कि चुनाव को पूर्व गठबंधन को तमिलनाडु की जनता ने सिरे से नकार दिया है. साथ ही जयललिता ने कहा कि राज्य की जनता ने परिवारवाद की राजनीति को नकार दिया. डीएमके के झूठे प्रचार की पोल भी खुल गई.

देखें- तमिलनाडु के चुनावी नतीजे

असम
असम में बीजेपी ने कांग्रेस का सुपड़ा साफ कर दिया है. राज्य की कुल 126 सीटों में 86 सीटें बीजेपी के खाते में गई है. जबकि कांग्रेस 26 पर सिमट गई. एआईयूडीएफ को 13 सीटों पर कामयाबी मिली है. असम में जीत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्बानंद सोनोवाल की तारीफ की. सोनावाल बीजेपी की तरफ से सीएम उम्मीदवार हैं और इनकी अगुवाई में 15 सालों से सत्ता पर काबिज तरुण गोगोई सरकार को असम से उखाड़ फेंका गया है.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने असम में बीजेपी की जीत को बड़ी कामयाबी बताई. उन्होंने कहा कि पांच राज्यों के इस चुनाव परिणाम से कांग्रेस मुक्त भारत की दिशा में देश दो और कदम आगे बढ़ गया है. अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने बीजेपी के विकास के एजेंडे को रोकने की भरपूर कोशिश की, लेकिन उसे अभी तक सफलता नही मिल पाई है.

देखें- असम के चुनावी नतीजे

केरल
केरल में भी कांग्रेस की बुरी तरह से हार हुई है. कुल 140 सीटों में से एलडीएफ को 83 सीटों कामयाबी मिली है. जबकि कांग्रेस की यूडीए 47 सीटों पर अटक गई. यहां बीजेपी गठबंधन का पहली बार खाता खुला है. साथ ही 9 सीटों को अन्य को जीत मिली है. शुक्रवार सुबह 10 बजे सीएम ओमान चांडी राज्यपाल को इस्तीफा सौंपेंगे. वहीं माकपा महासचिक सीताराम येचुरी शुक्रवार को केरल जाएंगे उसके बाद CM के नाम पर चर्चा होगी.

माकपा नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि इस चुनाव में सभी पार्टियों ने धन का भरपूर इस्तेमाल किया. साथ ही उन्होंने पश्चिम बंगाल में बीजेपी की जीत के लिए टीएमसी और कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया, उन्होंने कहा कि केरल में पार्टी की शानदार जीत हुई है और जनता से किए सभी वादे पूरे किए जाएंगे.

देखें- केरल के चुनावी नतीजे

पुडुचेरी
पुड्डुचेरी में 17 सीटें जीतकर डीएमके-कांग्रेस गठबंधन सत्ता तक पहुंच गई है. यहां कुल विधानसभा की 30 सीटें हैं, एआईएडीएमके को 4 सीटों पर जीत मिली है, जबकि एआईएनआरसी 8 सीटें जीतने में कामयाब रही है.एक सीट अन्य के खात में गई.

देखें- पुडुचेरी के चुनावी नतीजे

जीत के लिए भगवान के दर पर नेता
- केरल के मुख्यमंत्री ओमान चांडी ने तिरुवनंतपुरम में सेंट जॉन्स चर्च में पूजा की.

- असम में बीजेपी से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार सर्बानंद सोनोवाल ने उत्तर कमलाबाड़ी स्थित मंदिर में पूजा की.



आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay