एडवांस्ड सर्च

आदर्श सोसाइटी घोटाले के आरोपी अशोक चव्हाण लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

आदर्श सोसाइटी घोटाले में नाम आने के चलते कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ी थी. मगर अब कांग्रेस उन्हें लोकसभा चुनाव लड़ाने की तैयारी में है. पार्टी सूत्रों के मुताबिक चव्हाण को महाराष्ट्र की नांदेड़ लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने को कहा जा रहा है.

Advertisement
aajtak.in
साहिल जोशी [Edited by: सौरभ द्विवेदी]मुंबई, 19 February 2014
आदर्श सोसाइटी घोटाले के आरोपी अशोक चव्हाण लड़ेंगे लोकसभा चुनाव महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण

आदर्श सोसाइटी घोटाले में नाम आने के चलते कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ी थी. मगर अब कांग्रेस उन्हें लोकसभा चुनाव लड़ाने की तैयारी में है. पार्टी सूत्रों के मुताबिक चव्हाण को महाराष्ट्र की नांदेड़ लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने को कहा जा रहा है.

फिलवक्त इस सीट से अशोक चव्हाण के साले भास्कर पाटिल सांसद हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि कांग्रेस के लिए प्रत्याशी बदलने की कवायद मुश्किलों भरी नहीं रहेगी. नांदेड़ सीट पर चव्हाण परिवार का एक अरसे से प्रभुत्व रहा है. पिछले साल हुए स्थानीय निकाय चुनावों में भी यहां पर कांग्रेस ने फतेह हासिल की थी.

हालांकि खुद अशोक चव्हाण इस मामले में चुप्पी साधे हुए हैं. जब उनसे नांदेड़ से चुनाव लड़ने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कोई टिप्पणी करने से इनकार करते हुए बस इतना कहा कि मैं मराठवाड़ा में पार्टी की जीत के लिए पूरी मेहनत करूंगा.

कैसे पलटा पांसा
मगर कुछ वक्त पहले जिस नेता की संकेतों में आलाकमान यानी राहुल गांधी ने खुलकर आलोचना की थी. उसके लिए ये अचानक ह्रदय परिवर्तन क्यों. बताया जाता है कि महाराष्ट्र के कई जमीनी नेताओं ने इस बात पर नाखुशी जाहिर की थी, जिस ढंग से अशोक चव्हाण को आदर्श सोसाइटी घोटाले के बाद किनारे लगाया जाने लगा. पार्टी के एक बड़े तबके का यह मानना था कि संदेश देने के फेर में चव्हाण के मामले में जरूरत से ज्यादा ही सख्ती बरती जा रही है.

मराठवाड़ा बचाने की चिंता
पार्टी की एक चिंता यह भी है कि अगर सब ऐसे ही चलता रहा तो महाराष्ट्र के मराठवाड़ा इलाके में उसका नेतृत्व करने वाला कोई कद्दावर नेता नहीं रहेगा. विलासराव देशमुख की मौत के बाद यहां पार्टी के पास बड़े नेताओं के नाम पर सिर्फ चव्हाण ही बचे हैं. यहां पर बीजेपी-शिवसेना गठबंधन मजबूत स्थिति में नजर आ रहा है. इसके अलावा विदर्भ इलाके में भी चव्हाण की अच्छी पकड़ मानी जाती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay