एडवांस्ड सर्च

बिहार चुनाव: पांचवें और अंतिम चरण में 60 फीसदी मतदान

बिहार में पांचवें और अंतिम चरण का मतदान खत्म हो चुका है. पांच बजे तक वोटिंग हुई. आखिरी चरण में सबसे ज्यादा 9 जिलों की 57 सीटों पर वोट डाले गए. अंतिम चरण में 60 फीसदी मतदान हुआ. इस दौर में कुल 827 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होना है, वहीं 1.55 करोड़ वोटर में से 20 क्षेत्रों में मुस्लिम आबादी 30 फीसदी है.

Advertisement
aajtak.in
स्‍वपनल सोनल पटना , 05 November 2015
बिहार चुनाव: पांचवें और अंतिम चरण में 60 फीसदी मतदान 9 जिलों की 57 सीटों पर वोटिंग

बिहार में पांचवें और अंतिम चरण का मतदान खत्म हो चुका है. पांच बजे तक वोटिंग हुई. आखिरी चरण में सबसे ज्यादा 9 जिलों की 57 सीटों पर वोट डाले गए. अंतिम चरण में 60 फीसदी मतदान हुआ. इस दौर में कुल 827 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होना है, वहीं 1.55 करोड़ वोटर में से 20 क्षेत्रों में मुस्लिम आबादी 30 फीसदी है.

सबसे अधि‍क 67.27 फीसदी मतदान कटिहार में हुआ है. जबकि मधुबनी में 55.87 फीसदी, सुपौल में 58.60 फीसदी, अररिया में 62 फीसदी, किशनगंज में 64.39 फीसदी, पूर्णि‍या में 62.95 फीसदी, मधेपुरा में 57.84 फीसदी, सहरसा में 50.78 फीसदी और दरभंगा में 58.27 फीसदी वोटिंग दर्ज की गई है.

कटिहार के फलका में मतदान का बहिष्कार
इस बीच कटिहार के फलका प्रखंड के रहटा पंचायत बेलगच्छी गांव में बूथ संख्या-8 के वोटरों ने मतदान का बहष्कार कर दिया है. यहां कुल वोटरों की संख्या 835 है. स्थानीय लोगों का कहना हे कि गांव में सड़क नहीं ओर सड़क नहीं तो वोट नहीं.

पांचवें चरण के मद्देनजर मतदान के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. नेपाल में मधेशियों के विरोध प्रदर्शन के कारण भारत-नेपाल सीमा पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है. इस चरण में दरभंगा, मधुबनी, सुपौल, सहरसा, मधेपुरा, कटिहार, पूर्णिया, अररिया और किशनगंज जिलों में वोटिंग हो रही है. पांचवें चरण में 58 महिला प्रत्याशी भी चुनाव मैदान में हैं.

मधेपुरा में जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव ने सुबह करीब 8:30 बजे मतदान किया है. उम्मीद जताई जा रही है कि बीते 4 दौर की तरह इस बार भी अच्छी वोटिंग होगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्विटर के जरिए मतदाताओं से भारी संख्या में मतदान करने की अपील की है. ईवीएम में खराबी, देर से शुरू हुआ मतदान
दूसरी ओर, मतदान शुरू होते ही सहरसा जिले के महिषि विस क्षेत्र में बूथ संख्या 242 पर ईवीएम खराब होने की सूचना है. इसके अलावा किशनगंज में बूथ संख्या 213 और 199 पर भी ईवीएम में खराबी की खबर है. इसके अलावा सुपौल में बूथ नंबर 72 पर भी ईवीएम में गड़बड़ी के कारण वोटिंग देर से शुरू हुई. पूर्णिया में बूथ संख्या 67 और 68 पर भी ईवीएम में खराबी आई, जिसे ठीक किए जाने के बाद वहां मतदान शुरू हो सका. कटिहार के मनिहारी विधानसभा में भी ईवीएम में खराबी की सूचना है. इन बड़े नामों के भविष्य पर लगेगी मुहर
अंतिम चरण में छह मंत्रियों समेत जिन महत्वपूर्ण प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा उनमें नीतीश के मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव और आरजेडी के अब्दुल बारी सिद्दकी के अलावा नरेंद्र नारायण यादव, लेसी सिंह, दुलाल चंद्र गोस्वामी, बीमा भारती और नौशाद आलम प्रमुख हैं. बीजेपी के पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा और मुख्य प्रवक्ता विनोद नारायण झा के साथ ही सीपीआई के वरिष्ठ नेता रामनरेश पांडेय का राजनीतिक भविष्य भी आज ईवीएम में कैद होने वाला है.

राज्य में आठ नवंबर को वोटों को गिनती होगी और उसी दिन परिणामों की घोषणा भी की जाएगी.

दो सीटों पर तीन बजे तक वोट
सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर और महिषी विधानसभा क्षेत्रों में मतदान का समय सात बजे से तीन बजे तय किया गया है. अन्य 55 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान का समय सात बजे से पांच बजे तय किया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay