एडवांस्ड सर्च

राजस्‍थान में चुनाव आयोग के पोस्‍टर पर बवाल, गुस्‍से में गहलोत सरकार

राजस्‍थान में वोटरों को जागरूक करने के लिए चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए एक पोस्‍टर पर भारी बवाल मच गया है. पोस्‍टर में ऐसी बातें लिखी गई हैं, जिसे राजस्‍थान की गहलोत सरकार अपने खिलाफ मानती है.

Advertisement
aajtak.in
आजतक वेब ब्‍यूरो [Edited By: अमरेश सौरभ]जयपुर, 07 November 2013
राजस्‍थान में चुनाव आयोग के पोस्‍टर पर बवाल, गुस्‍से में गहलोत सरकार अब आप निकालिए पोस्‍टर में लिखी बातों के मतलब...

राजस्‍थान में वोटरों को जागरूक करने के लिए चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए एक पोस्‍टर पर भारी बवाल मच गया है. पोस्‍टर में ऐसी बातें लिखी गई हैं, जिसे राजस्‍थान की गहलोत सरकार अपने खिलाफ मानती है.

दरअसल, प्रदेश चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पोस्‍टर जारी करके वोटरों से अपना वोट डालने पोलिंग बूथ तक जरूर जाने की अपील की. आयोग की इस मंशा में तो कोई बुराई नजर नहीं आती, लेकिन आयोग ने पोस्‍टर में जिन शब्‍दों का इस्‍तेमाल किया है, उससे यह भ्रम पैदा होता है कि यह राजस्‍थान की मौजूदा कांग्रेस सरकार के खिलाफ है.

पोस्‍टर में एक आदमी अपने घर पर बड़े आराम से टीवी देख रहा है. पोस्‍टर में लिखा है:
'क्‍या बैठे-बैठे सरकार को ही कोसते रहोगे
या मतदान कर अपनी पसंद की सरकार चुनोगे'


हालांकि राजस्‍थान के मुख्‍य निर्वाचन अधिकारी अशोक जैन के मुताबिक पोस्‍टर में कुछ भी गलत नहीं लिखा गया है. जब उनसे यह पूछा गया कि क्‍या इससे यह संदेश नहीं जा रहा है कि वोटरों से सरकार बदलने की अपील की जा रही है, तो उन्‍होंने कहा कि इसमें लिखी बातों का गलत मतलब मत निकालिए, हर किसी को अपनी पसंद की सरकार चुनने का हक है. बहरहाल, पोस्‍टर को लेकर बवाल अभी थमने की कोई संभावना नजर नहीं आ रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay