एडवांस्ड सर्च

Advertisement

मिजोरम में कांग्रेस को मिली जीत

40 सदस्‍यीय मिजोरम विधानसभा चुनाव को कांग्रेस ने जीत लिया है. अब तक घोषित 38 परिणामों में से 32 कांग्रेस के पक्ष में गए हैं, जबकि 5 सीटों पर मिजो नेशनल फ्रंट ने कब्जा जमाया है. एमपीसी ने 1 सीट पर जीत दर्ज की है. 2 सीटों पर अभी भी काउंटिंग जारी है.
मिजोरम में कांग्रेस को मिली जीत मिजोरम विधानसभा में हैं 40 सीटें
आज तक वेब ब्‍यूरो [Edited By: अभिजीत श्रीवास्तव]एजल, 10 December 2013

40 सदस्‍यीय मिजोरम विधानसभा चुनाव को कांग्रेस ने जीत लिया है. अब तक घोषित 38 परिणामों में से 32 कांग्रेस के पक्ष में गए हैं, जबकि 5 सीटों पर मिजो नेशनल फ्रंट ने कब्जा जमाया है. एमपीसी ने 1 सीट पर जीत दर्ज की है. 2 सीटों पर अभी भी काउंटिंग जारी है.

मुख्यमंत्री ललथनहवला सेरचिप और हरांगतुर्जो दोनों ही सीटें जीत गए हैं. वे इन दोनों ही सीटों पर चुनाव लड़े थे. सेरचिप में लल थनहवला ने अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी और एमएनएफ के प्रत्याशी लालरामजाउवा को 734 वोटों के अंतर से हराया है. इस प्रत्याशी के हिस्से में 4,985 वोट आए हैं. हरांगतुर्जो में मुख्यमंत्री ने मिजोरम पीपुल्स कांफ्रेंस के प्रत्याशी लालथांसांगा को 1,638 वोटों से हराया है. ललथनहवला को यहां 5173 वोट मिले. चार बार मुख्यमंत्री रह चुके लल थनहवला अपने लगातार दूसरे कार्यकाल के लिए चुनाव लड़ रहे थे.

चार बार मुख्यमंत्री रहे ललथनहवला ने कहा कि हालांकि सत्ता विरोधी लहर थी लेकिन वे अगली सरकार बनाने को लेकर आश्वस्त थे. वन मंत्री एच.रोहलुना लेंगतेंग से, संसदीय सचिव स. लालदिंग्लीयाना दक्षिणी लंगलेई से जबकि विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष्ग्य हिफेई पलक से जीते. शिक्षा मंत्री लालसाव्ता एजल पूर्व-11 की सीट पर एमएनएफ के प्रत्याशी सेलोथांगा सेलो को हराकर जीते. उत्तरी लंगलेई से राज्य के समाज कल्याण मंत्री पी.सी. लालथानलियाना ने एमएनएफ के के. वन्लाल्लावमा को हराया. कांग्रेस तुईवाल, दक्षिणी तुईपुई, उत्तरी चंफाई से भी जीत गई. एमएनएफ के प्रत्याशी के. बेईछुआ ने अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी और पर्यटन मंत्री एस. हियातो को हराकर की सीट जीत ली. एमएनएफ के प्रत्याशी लालरिनावमा ने कांग्रेस के मौजूदा विधायक के. लियानजुआला को तुईकुम से हराया. लालरिनावमा पेशे से इंजीनियर हैं. सत्ताधारी कांग्रेस और विपक्षी मिजोरम डेमोक्रेटिक एलियांस सभी 40 सीटों से चुनाव लड़े थे. मिजोरम डेमोक्रेटिक एलायंस में मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ), मिजोरम पीपुल्स कांफ्रेंस (एमपीसी) और मारालैंड डेमोक्रेटिक फ्रंट शामिल हैं. एमएनएफ को छोड़ दिया जाए तो मिजोरम डेमोक्रेटिक एलाइंस के दो अन्य घटकों एमपीसी और मारालैंड डेमोक्रेटिक फ्रंट के खाते खुलने अभी बाकी हैं.

मिजोरम विधानसभा के लिए 25 नवंबर को मतदान हुआ था. जिसमें जेडएनपी 38 सीटों पर, बीजेपी 17 सीटों पर और राकांपा दो सीटों पर अपने विधायक खड़े किए थे. जय महाभारत पार्टी एक सीट पर और निर्दलीय चार सीटों पर किस्मत आजमाया.

राज्य में कुल 142 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं जिनमें से छह महिलाएं हैं. इनमें से एक कांग्रेस से, एक एमडीए से, 3 बीजेपी से और एक निर्दलीय हैं. मिजोरम भारत का एकमात्र ऐसा राज्य है, जहां महिला मतदाताओं की संख्या पुरुष मतदाताओं से 9,806 अधिक है. राज्य में कुल मतदाता 690,860 है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay