एडवांस्ड सर्च

Advertisement

अरविंद केजरीवाल, आम आदमी पार्टी

45 साल के अरविंद केजरीवाल और उऩकी आम आदमी पार्टी ने पहली बार दिल्ली विधानसभा चुनावों को त्रिकोणीय बना दिया है. आप के सीएम उम्मीदवार केजरीवाल नई दिल्ली विधानसभा सीट पर मौजूदा सीएम शीला दीक्षित और बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता को कड़ी चुनौती पेश कर रहे हैं.
अरविंद केजरीवाल, आम आदमी पार्टी अरविंद केजरीवाल
आज तक वेब ब्‍यूरोनई दिल्ली, 07 December 2013

45 साल के अरविंद केजरीवाल और उऩकी आम आदमी पार्टी ने पहली बार दिल्ली विधानसभा चुनावों को त्रिकोणीय बना दिया है. आप के सीएम उम्मीदवार केजरीवाल नई दिल्ली विधानसभा सीट पर मौजूदा सीएम शीला दीक्षित और बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता को कड़ी चुनौती पेश कर रहे हैं.

हरियाणा में जन्मे केजरीवाल आआईटी खड़गपुर से पढ़े, इंडियन रेवेन्यू सर्विस में जॉइंट कमिश्नर रहे. सामाजिक कार्यों के लिए सात साल बाद उन्होंने नौकरी को अलविदा कह दिया.

अरविंद सबसे ज्यादा जनलोकपाल आंदोलन के लिए जाने गए. अगस्त 2011 में जब अन्ना हजारे ने जंतर मंतर पर ऐतिहासिक अनशन किया, तो उसके पीछे अरविंद केजरीवाल और उनकी टीम की ताकत थी. जनलोकपाल को लेकर सरकार की नीयत साफ नहीं है, ऐसा आरोप लगाते हुए केजरीवाल ने राजनीति में कूदने का फैसला लिया. लेकिन अन्ना इस फैसले में उनके साथ नहीं थे. इसके बाद भी अरविंद ने अपने साथियों, मनीष सिसौदिया, प्रशांत भूषण, योगेंद्र यादव, गोपाल राय आदि के साथ मिलकर आम आदमी पार्टी बनाई. बिजली के बढ़ते दामों को लेकर सुंदरनगरी में उन्होंने अनशन किया. इसके बाद पूर्वी दिल्ली में उनकी पार्टी को खासी लोकप्रियता मिली.

जानकारों और एग्जिट पोल की मानें, तो एक साल में ही आम आदमी पार्टी को बहुत अच्छा रिस्पॉन्स मिला है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay