एडवांस्ड सर्च

PAK हाई कमिश्नर ने कहा, भारत-PAK के बीच असली मसला है कश्मीर

भारत में पाकिस्तान के हाई कमिश्नर अब्दुल बासित ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच परेशानी की असली वजह दाऊद इब्राहिम, लखवी या हाफिज नहीं हैं, बल्कि जम्मू-कश्मीर मसला है. यदि भारत इस मसले को हल कर दे, तो यकीन कीजिए पाकिस्तान में भी भारत के लिए एक विश्वास का माहौल कायम हो जाएगा.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: मुकेश कुमार]नई दिल्ली, 12 December 2015
PAK हाई कमिश्नर ने कहा, भारत-PAK के बीच असली मसला है कश्मीर भारत में पाकिस्तान के हाई कमिश्नर अब्दुल बासित

वित्त मंत्री अरुण जेटली के बाद एजेंडा आजतक के मंच पर भारत में पाकिस्तान के हाई कमिश्नर अब्दुल बासित आए. इस सत्र का मुद्दा 'पाकिस्तान के दिल में क्या है?' था. इंडिया टुडे टीवी के कंसल्टिंग एडिटर राजदीप सरदेसाई ने उनसे आतंक और आतंकवादियों के मुद्दे पर खुलकर बात की.

दोनों देशों के बीच विश्वास कामय करने के लिए दाऊद, लखवी और हाफिज को भारत सौंपने के सवाल पर अब्दुल बासित ने कहा कि हमारे वहां भी न्यायिक व्यवस्था है. उसी आधार पर कार्रवाही होती है. यदि वाकई दाऊद पाकिस्तान में है, तो भारत हमें सबूत दें, उसके बाद एक प्रक्रिया के तहत कार्रवाई होगी.

भारत-पाक के बीच असली मसला कश्मीर
उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच परेशानी की असली वजह दाऊद इब्राहिम, लखवी या हाफिज नहीं हैं, बल्कि जम्मू-कश्मीर मसला है. यदि भारत इस मसले को हल कर दे, तो यकीन कीजिए पाकिस्तान में भी भारत के लिए एक विश्वास का माहौल कायम हो जाएगा.

PAK भी झेल रहा है आतंक का दंश
आतंकवाद के मुद्दे पर बासित ने कहा कि पाकिस्तान भी आतंकवाद का दंश झेल रहा है. अफगानिस्तान में शुरू हुए तनाव के बाद हमारे देश में भी कई बड़े हमले हुए. इसलिए हम इसका दर्द समझ सकते हैं. इसलिए किसी देश में आतंकी हमले से हमें न जोड़ा जाए.

क्रिकेट के लिए तैयार है पाकिस्तान
अगले 15 दिन में भारत-पाक के बीच क्रिकेट मैच के सवाल पर उन्होंने कहा कि इसके लिए पाकिस्तान पहले से ही तैयार है. अब इस पर भारतीय हुकूमत को फैसला करना है. यदि दोनों देशों के बीच क्रिकेट मैच हुए तो हमें बहुत खुशी होगी. इससे दोनों देशों के रिश्ते पर अच्छा असर पड़ेगा.

 

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay