एडवांस्ड सर्च

Advertisement

नरेंद्र मोदी का जवाब हैं सोनियाः कमलनाथ

एजेंडा आज तक में आए राज्यसभा में विपक्ष के नेता अरुण जेटली पर तंज कसते हुए केंद्रीय मंत्री कमलनाथ बोले कि नरेंद्र मोदी बीजेपी का आखिरी पत्ता हैं. इस पर जेटली बोले कि मोदी आखिरी नहीं सबसे मजबूत पत्ता हैं. मगर कांग्रेस क्या करेगी जिसके पत्ते का पता ही नहीं. इस चुनौती पर कमलनाथ ने कहा कि हमारा पत्ता सोनिया गांधी हैं, जो अपनी ताकत 2004 और 2009 के चुनाव में दिखा चुकी हैं.
नरेंद्र मोदी का जवाब हैं सोनियाः कमलनाथ एजेंडा आज तक में अरुण जेटली और कमलनाथ
सौरभ द्विवेदी [Edited by: कुलदीप मिश्र] 06 December 2013

एजेंडा आज तक में आए राज्यसभा में विपक्ष के नेता अरुण जेटली पर तंज कसते हुए केंद्रीय मंत्री कमलनाथ बोले कि नरेंद्र मोदी बीजेपी का आखिरी पत्ता हैं. इस पर जेटली बोले कि मोदी आखिरी नहीं सबसे मजबूत पत्ता हैं. मगर कांग्रेस क्या करेगी जिसके पत्ते का पता ही नहीं. इस चुनौती पर कमलनाथ ने कहा कि हमारा पत्ता सोनिया गांधी हैं, जो अपनी ताकत 2004 और 2009 के चुनाव में दिखा चुकी हैं.

जेटली बोले कि आज की जमीनी हकीकत ये है कि लोग सरकार से निराश हैं. इस पर कमलनाथ बोले कि दिल्ली देश नहीं है. जनता की परेशानी की बात बढ़ा चढ़ाकर बताई जा रही है. उन्होंने कहा कि 2009 में भी यही बात हो रही थी, नतीजा क्या रहा सब जानते हैं.

कमलनाथ ने कहा कि लोग अपनी मुश्किलों का शॉर्टकट उपाय चाहते हैं. जेटली बोले कि एंटी इनकमबैंसी की आड़ में कैसे बच सकती है कांग्रेस, कई राज्यों में मुख्यमंत्री लगातार चुनाव जीत रहे हैं.

मोदी की हवा खारिज करते हुए कमलनाथ ने कहा कि उनकी रैली में भीड़ आती नहीं लाई जाती है. उन्होंने कहा कि मोदी की सरकार अगर इतनी ही अच्छी चल रही थी तो 2004 और 2009 में कांग्रेस का लोकसभा चुनाव में इतना अच्छा प्रदर्शन कैसे रहा.

राहुल गांधी की रैली में भीड़ की कमी पर कमलनाथ बोले कि ये दिल्ली की दिक्कत है. यहां सभा का कल्चर खत्म हो रहा है. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में उन्हें सुनने के लिए 200 किलोमीटर दूर से आए.

जेटली ने राहुल पर चुटकी लेते हुए कहा कि एक रैली में कम भीड़ समझ आ सकती है. मगर फिर इस डर से कोई सभा ही नहीं करना तो राजनीतिक पलायन है. जेटली बोले कि इस देश का प्रधानमंत्री कांग्रेस की एक रैली में भी नहीं आया.उन्होंने कहा कि दिल्ली के चुनाव में शीला दीक्षित को कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व ने अकेला छोड़ दिया.

नए गठबंधन साझीदारों के सवाल पर जेटली बोले कि अगर बीजेपी मजबूत होगी, तभी एनडीए मजबूत होगा. बीजेपी नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ही मजबूत हो सकता है. उन्होंने कहा कि जब हमारे पास नंबर होंगे, हम सही स्थिति में होंगे तो कई साझीदार मिलेंगे.

हालिया विधानसभा चुनावों के बारे में कमलनाथ बोले कि मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार बना रही है. वह बोले कि मोदी ने मेहनत तो बहुत की है, मगर ऐसा उन्होंने कर्नाटक में भी किया था. नतीजा सामने है.

पत्तों पर सिमटी बहस जेटली और नाथ की
बीजेपी के पीएम कैंडिडेट नरेंद्र मोदी के मुकाबले राहुल गांधी की कम सक्रियता से जुड़े सवाल पर कमल नाथ बोले कि बीजेपी अपना आखिरी पत्ता चल चुकी है. इस पर जेटली बोले कि कांग्रेस भले ही मोदी को आखिरी पत्ता कहे, मगर हम उन्हें सबसे मजबूत पत्ता मानते हैं. जेटली ने पूछा कि कांग्रेस का क्या, जिसके पास कोई पत्ता ही नहीं है.

इस पर कमलनाथ बोले कि खास किस्म के पत्ते चल चलकर ही बीजेपी यहां तक पहुंची है.उन्होंने कहा कि मोदी के जवाब में सोनिया गांधी हमारा पत्ता हैं. जो 2004 और 2009 में बखूबी चल भी चुका है.टीवी की बहस को खारिज करते हुए कमलनाथ बोले कि पहले के चुनावों में भी उनके अनुमान गलत साबित हो चुके हैं.

किसका होने जा रहा है राजतिलक, इस सवाल पर कमलनाथ बोले कि मुझे यकीन है कि देश की जनता कांग्रेस पर विश्वास रखेगी.उन्होंने कहा कि बीजेपी पिछड़ रही थी इसलिए मोदी को सामने लाई.कांग्रेस सही समय पर अपने पत्ते खोलेगी. इस मसले पर जेटली बोले कि मोदी की लोकप्रियता के लिए अब बयान जारी करने की जरूरत नहीं है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay