एडवांस्ड सर्च

एजेंडा आज तक में मिल बैठे 3 मुख्यमंत्री: हुड्डा बोले- 'हमने 1 इंच जमीन नहीं दी रॉबर्ट वाड्रा को'

एजेंडा आज तक के दूसरे दिन गुरुवार को विकास की राजनीति पर बात करने मंच पर आए तीन प्रदेशों के मुख्यमंत्री. हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा, गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन. लेकिन बात निकली तो फिर विकास से ज्यादा विवादों की राजनीति तक पहुंची.

Advertisement
सौरभ द्विवेदी [Edited by: कुलदीप मिश्र]नई दिल्ली, 05 December 2013
एजेंडा आज तक में मिल बैठे 3 मुख्यमंत्री: हुड्डा बोले- 'हमने 1 इंच जमीन नहीं दी रॉबर्ट वाड्रा को' एजेंडा आज तक में हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा

एजेंडा आज तक के दूसरे दिन गुरुवार को विकास की राजनीति पर बात करने मंच पर आए तीन प्रदेशों के मुख्यमंत्री. हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा, गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन. लेकिन बात निकली तो फिर विकास से ज्यादा विवादों की राजनीति तक पहुंची.

भूपिंदर सिंह हुड्डा बोले कि मेरे लिए राजनीति बहुत पॉजिटिव शब्द है. जब रॉबर्ट वाड्रा का नाम लिए बिना उनसे जमीन आवंटन पर सवाल किया गया तो वह बोले कि उन्होंने नियमों को ताक पर रखकर एक इंच जमीन भी किसी को नहीं दी. हुड्डा बोले कि हमने किसी भी डिवेलपर को एक इंच जमीन अधिग्रहीत कर नहीं की गई है. उन्होंने कहा कि हमने लाइसेंस की पॉलिसी बनाई है, जिससे सभी किसानों को फायदा पहुंच रहा है.

इस चर्चा में शरीक होते हुए झारखंड के मुख्यमंत्री सोरेन ने कहा कि हरियाणा को तो दिल्ली की नजदीकी का फायदा मिला है. मगर अपने सूबे की बात करूं तो दिल्ली वाले योजनाएं बनाकर थोप देते हैं. उन्होंने मनरेगा का जिक्र करते हुए कहा कि झारखंड में पहाड़ हैं, खेत नहीं, तो मनरेगा का काम कैसे करवाएं.

झारखंड का CM होता तो वहां कोई भूखा न सोता: पर्रिकर

विकास के बारे में बात करते हुए गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर बोले कि हमने ह्यूमन डिवेलपमेंट पर भी काफी काम किया. उन्होंने कहा कि लोगों में अच्छी भावना हो और कोई भूखा न रहे. हमने इस पर काम किया. मनोहर ने ये कहकर माहौल गर्मा दिया कि अगर झारखंड का मुख्यमंत्री मैं बन गया. तो वहां भी यही सब करूंगा. इस पर हेमंत सोरेन बोले कि मैं एक महीने पहले गोवा गया था. मुझे लगता था कि झारखंड में ही दिक्कतें हैं. मगर गोवा में भी बहुत दिक्कतें नजर आईं मुझे. मनोहर ने कहा कि अगर मैं झारखंड का मुख्यमंत्री होता तो वहां कोई भूखा नहीं सोता.

हरियाणा के विकास की खूब तारीफ की हुड्डा ने
हरियाणा की हुड्डा राज में नई पहचान क्या बनी, इस सवाल पर मुख्यमंत्री बोले कि कोई भी सामाजिक या आर्थिक विकास राजनीति के बिना नहीं हो सकता. उन्होंने कहा कि मेरे नौ साल के राज में ये दोनों ही हुआ है. वह बोले कि पर कैपिटा इनकम में हम सिर्फ गोवा से पीछे हैं.

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर बोले कि माइनिंग माफिया गोवा में चार पांच बरस पहले हावी हो रहा था, मगर अब हालात बदल गए हैं. उन्होंने कहा कि झारखंड में अभी भी माफिया का शोषण चल रहा है. मनोहर बोले कि झारखंड में विकास के लिए स्थायी सरकार बेहद जरूरी है.

झारखंड को लेकर फैला हुआ है भ्रम: सोरेन
झारखंड में गद्दी बचाना चुनौती है या राज्य का विकास, इस सवाल पर सोरेन बोले कि हमारा व्यवहार तो गद्दी के लिए कभी नहीं रहा मगर राजनीति में ये भी जरूरी है.

मधु कोड़ा के नाम से जाना जाता है झारखंड का राजनेता, इस चुभते सवाल पर हेमंत सोरेन बोले कि देखिए लोगों के मन में हमारे राज्य को लेकर भ्रांति बहुत हैं. उन्होंने कहा कि झारखंड में गुंडागर्दी की बात गलत है. इसके ऐवज में उन्होंने तर्क दिया कि राज्य में सबसे ज्यादा सेंट्रल गवर्नमेंट के उपक्रम हैं और आराम से काम कर रहे हैं.

रोजगार से जुड़ा है विकास: पर्रिकर
क्या विकास का सीधा रिश्ता रोजगार है. इस सवाल पर मनोहर बोले कि हां, विकास का मतलब सिर्फ इन्फ्रास्ट्रक्चर बेहतर करना नहीं होता. उन्होंने कहा कि गोवा में शिशु मृत्यु दर 8 से कम है, जबकि राष्ट्रीय औसत 50 से भी ज्यादा है.उन्होंने कहा कि प्रसव के वक्त मां की मौत का वाकया तो साल में एक दो बार ही होता है. उन्होंने कहा कि हमने सबसे ज्यादा काम सोशल सिक्युरिटी पर किया है और इस मामले में गोवा ईस्ट यूरोप को टक्कर दे रहा है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay