एडवांस्ड सर्च

Advertisement

'भारतीय हॉकी टीम के लिये शीर्ष छह में आना अच्छा'

हॉलैंड के महान हाकी खिलाड़ी और दुनिया के सफलतम कोचों में से एक रोलैंट ओल्टमैन्स को लगता है कि यदि भारतीय टीम लंदन ओलंपिक में सेमीफाइनल में पहुंचती है तो यह बहुत अच्छा परिणाम होगा लेकिन यदि वह शीर्ष छह में भी स्थान बनाता है तो इसे अच्छा परिणाम माना जाएगा.
'भारतीय हॉकी टीम के लिये शीर्ष छह में आना अच्छा' भारतीय हॉकी टीम
आजतक ब्यूरो/भाषालंदन, 26 July 2012

हॉलैंड के महान हाकी खिलाड़ी और दुनिया के सफलतम कोचों में से एक रोलैंट ओल्टमैन्स को लगता है कि यदि भारतीय टीम लंदन ओलंपिक में सेमीफाइनल में पहुंचती है तो यह बहुत अच्छा परिणाम होगा लेकिन यदि वह शीर्ष छह में भी स्थान बनाता है तो इसे अच्छा परिणाम माना जाएगा.

ओल्टमैन्स यहां हालैंड के ओलंपिक दल के साथ तकनीकी प्रतिनिधि के रूप में आये हैं.

उन्होंने कहा, ‘निश्चित तौर पर चोटी के छह में स्थान बनाना अच्छा परिणाम होगा लेकिन मैं सेमीफाइनल में पहुंचने को लेकर बहुत आश्वस्त नहीं हूं. भारत का पहला मैच ही हॉलैंड से है. यह दिलचस्प होना चाहिए क्योंकि मुझे लगता है कि हॉलैंड खिताब के प्रबल दावेदारों में है.’

यह 52 वर्षीय खिलाड़ी जानता है कि भारत विश्व हॉकी के लिये कितना महत्वपूर्ण है.

उन्होंने कहा, ‘यह ऐसा खेल है जिससे काफी परंपराएं जुड़ी हैं और हॉकी जगत को भारत से अच्छे प्रदर्शन की जरूरत है.’

ओल्टमैन्स ने कहा, ‘निश्चित तौर पर मैं हॉकी के मैच देखूंगा लेकिन मेरी भूमिका यहां काफी बड़ी है. मैं हॉकी से जुड़ा हूं.’

उन्होंने भारतीय टीम के कोच माइकल नोब्स की भी प्रशंसा की.

उन्होंने कहा, ‘नोब्स अच्छा इंसान है. उन्होंने अब तक अच्छा काम किया है. भारत पिछली बार ओलंपिक में जगह नहीं बना पाया था लेकिन इस बार उन्होंने टीम को क्वालीफाई करवाया है. इस बार वे क्वालीफाई करने के प्रति आश्वस्त थे.’

ओल्टमैन्स इस साल के शुरू में विश्व सीरीज हॉकी दिल्ली टीम के कोच के रूप में भारत आए थे. इस टूर्नामेंट में ओलंपिक के लिये भारतीय संभावित खिलाड़ियों ने भाग नहीं लिया था. लेकिन उन्होंने ओलंपिक टीम में शामिल अधिकतर खिलाड़ियों का खेल देखा है.

ओल्टमैन्स ने कहा, ‘डब्ल्यूएसएच अच्छा विचार है और मैं अगले सत्र में भी भारत आउंगा.’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay