एडवांस्ड सर्च

रायपुर में जैक से 3 फीट उठा मकान

छत्तीसगढ़ के रायपुर में हरियाणा के इंजीनियरों ने कमाल करते हुए जैक तकनीक के इस्तेमाल से एक पुराने मकान को जमीन से तीन फीट ऊपर उठा दिया. राजधानी में पहली बार ऐसा हुआ है कि जब एक मकान को जैक लगाकर तीन फीट ऊपर उठाया गया, क्योंकि वह सड़क से तकरीबन डेढ़ फीट नीचे चला गया था.

Advertisement
आईएएनएस [Edited By: पीयूष शर्मा]रायपुर, 08 March 2014
रायपुर में जैक से 3 फीट उठा मकान

छत्तीसगढ़ के रायपुर में हरियाणा के इंजीनियरों ने कमाल करते हुए जैक तकनीक के इस्तेमाल से एक पुराने मकान को जमीन से तीन फीट ऊपर उठा दिया. राजधानी में पहली बार ऐसा हुआ है कि जब एक मकान को जैक लगाकर तीन फीट ऊपर उठाया गया, क्योंकि वह सड़क से तकरीबन डेढ़ फीट नीचे चला गया था.

जलविहार कॉलोनी में राकेश लालवानी के 1800 वर्गफीट के मकान को लिफ्ट किया गया है. इसे लिफ्ट किया है हरियाणा की कंपनी आशीर्वाद लिफ्ट एंड शिफ्ट ने. इसके लिए उसने 250 रुपये प्रति वर्ग फीट चार्ज किया है. यानी कुल खर्च करीब 4.5 लाख रुपये का आया. मकान मालिक राकेश लालवानी ने बताया कि रोड से डेढ़ फीट नीचे होने के कारण मकान में नाली और बारिश का पानी भर जाता था, ऐसा न हो इसलिए मकान ऊपर उठवाया गया.

खास बात यह कि इस पूरी प्रक्रिया में मकान की किसी भी दीवार में जरा भी दरार नहीं आई है. इस तकनीक से मकान को आगे-पीछे और दूसरी जगह शिफ्ट भी करवाया जा सकता है. कंपनी के प्रतिनिधि गुलाब सिंह का कहना है कि 20 फीट तक शिफ्टिंग के लिए कंपनी सात सौ और 40 फीट तक शिफ्टिंग के लिए 1400 रुपये प्रति स्क्वेयर फीट के हिसाब से चार्ज करती है. यहां के काम के बाद रिंग रोड के पास तीन हजार स्क्वेयर फीट में बने मकान को आठ फीट ऊपर उठाने की बात चल रही है.

पुरानी कार खरीदने-बेचने का काम करने वाले मकान मालिक यहां कार पार्किंग वाला शो रूम बनवाना चाहते हैं. सड़क चौड़ीकरण के कारण मकान तोड़ने की नौबत आ जाती है. अगर घर के पीछे या आसपास कहीं खाली जमीन हो तो मकान शिफ्ट करवा सकते हैं. सड़क ऊंची होने और मकान नीचा होने की स्थिति में नाली और बारिश के पानी से बचने के लिए पूरा मकान ही उठा सकते हैं.

ऐसे हुआ कमाल
जैक तकनीक से मकान के नींव के नीचे जैक लगाए जाते हैं. फिर, स्क्रू से जैक को एक-दो सेंटीमीटर ऊपर करते हुए दिनभर में करीब दो से तीन इंच उठाया जाता है. फर्श को लगभग तीन फीट यानी नींव से एक फीट नीचे तक खोदा गया. इसके बाद पुरानी नींव के नीचे चारों तरफ एक फीट के 160 जैक लगाए गए और नई नींव बनाई गई. मकान एक फीट ऊपर उठाया गया. दूसरी और तीसरी बार भी जैक लगाकर दो फीट और उठाया. मकान के अन्य हिस्सों में भी पिलर्स के रूप में जैक लगाए गए. काम 26 जनवरी को शुरू हुआ, आने वाले हफ्ते में पूरा हो जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
पाएं आजतक की ताज़ा खबरें! news लिखकर 52424 पर SMS करें. एयरटेल, वोडाफ़ोन और आइडिया यूज़र्स. शर्तें लागू
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay